हम्माल-तुलावटियों का धरना प्रदर्शन, सरकार से मांग- “तौल पर्ची जारी करे सरकार”

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश में जारी कोरोना संकट काल के बीच अब कृषि उपज मंडियों में काम करने वाले हम्माल ओर तुलावटियों की रोजी-रोटी पर संकट मंडराने लगा है। प्रदेश की कृषि उपज मंडी में इलेक्ट्रिक तोल कांटे आने से हम्माल और तुलावटियों की परेशानियां बढ़ गई है, जिससे उनमें आक्रोश पनप रहा है। अपनी रोजी-रोटी छिनती देख कृषि उपज मंडी में कार्य करने वाले हम्माल ओर तुलावटी अब सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रहे हैं।

शुक्रवार को राजधानी के नीलम पार्क में प्रदेश भर से आए तुलावटियों और हम्मालों ने एक्ट में संशोधन की मांग को लेकर नारेबाजी करते हुए विरोध प्रदर्शन किया। हालांकि नीलम पाक से कूच कर रहे इन मंडी मजदूरों को पुलिस ने गेट बंद कर वहीं रोक दिया। प्रदर्शनकारियों की मांग थी कि सरकार ने जो एक्ट लागू किया है उसे तुरंत निरस्त करें और प्रदेश की मंडियों में जहां तौल की जाती है वहां तौल पर्ची जारी कर हम्मालों को नियुक्ति दी जाए। साथ ही उन्होंने ये भी मांग की कि जहां बड़े कांटों पर तौल हो रहा है वहां व्यक्ति विशेष की नियुक्ति न करते हुए सालों से मंडियों में काम कर रहे तुलावटियों को ही नियुक्त किया जाए। उन्होने सरकार को चेतवानी देते हुए कहा कि अगर इस एक्ट में संशोधन नहीं किया गया तो इसका खामियाजा सरकार को आने वाले समय मे भुगतना पड़ेगा।