विभाग बंटवारा मुख्यमंत्री का विशेषाधिकार, गोविंद सिंह सलाह नही दे सकते: नरोत्तम

भोपाल।
शिवराज मंत्रिमंडल विस्तार (Shivraj cabinet expansion) के बाद मंत्रियों के विभागों में बंटवारों को लेकर हो रही सियासत पर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Home Minister Narottam Mishra) ने बड़ा बयान दिया है। मिश्रा का कहना है कि यह सीएम का विशेष अधिकार है वो अपने विवेक से निर्णय करेंगे। विभागों को लेकर कोई खींचातानी नहीं है, ज़रूरी समय लगता है, भाजपा में सबसे चर्चा होती है, सबको साथ लेकर चलते हैं। इतना ही नही मिश्रा ने गोविंद सिंह को भी नसीहत दे डाली है।

पूर्व मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक डॉ गोविंन्द सिंह (Former Minister and Senior Congress MLA Dr. Govind Singh) द्वारा मुख्यमंत्री शिवराज को सलाह देन पर नरोत्तम ने पलटवार किया है। मिश्रा का कहना है कि वे खुद अपना विभाग तय नहीं कर पाए थे, वो भाजपा को सलाह कैसे दे सकते हैं। भाजपा में किस को कौन से विभाग दिये जायें ये गोविंन्द सिंह नहीं तय कर सकते।बता दे कि हाल ही में गोविंद सिंह ने कहा था कि मुख्यमंत्री शिवराज को मेरी सलाह है कि  सिंधिया के समर्थक किसी भी मंत्री को राजस्व विभाग नहीं दिया जाए, क्योंकि सिंधिया परिवार जमीनें हड़पने का काम करता है।  ग्वालियर में शासकीय जमीन पर गजट नोटिफिकेशन के बावजूद सिंधिया ने परिवार और ट्रस्ट के नाम से गलत तरीके से जमीनें आवंटित करा ली हैं।

वही कांग्रेस की बैठकों को लेकर मिश्रा ने निशाना साधा और कहा कि सब एयर-कंडिशन कमरों में काम करते हैं जनता के बीच नहीं जाते। 24 सीटों पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ही नहीं घूमे हैं तो जिला अध्यक्ष स्थिति कैसे बता पाएंगे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here