इंदौर में बिगड़ते हालात से निपटने 13 अतिरिक्त अफसरों की तैनाती, दो IAS भी शामिल

भोपाल| प्रदेश में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है| इंदौर में स्तिथि शुरुआत से ही चिंताजनक बनी हुई है, जहां अब तक 235 मरीज कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं| वहीं मौत का आंकड़ा 27 तक पहुँच गया है| बिगड़ते हालात को देखते हुए सरकार ने अब 13 अतिरिक्त अफसरों की इंदौर में तैनाती की है, जिन में 2 आईएएस अधिकारी भी शामिल है| मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी|

सीएम शिवराज ने ट्वीट कर लिखा- ‘मेरे प्रिय इंदौर निवासियों: कोरोना वाइरस से लड़ रहे आप सभी नागरिकों और स्थानीय प्रशासन की मदद के लिए मैंने इन्दौर में 13 अतिरिक्त अफसरों को जिन में 2 आईएएस अधिकारी भी शामिल है तत्काल प्रभाव से पदस्थ किया है। आप के साथ पूरा मध्यप्रदेश है और हम मिल कर इस महामारी से जीतेंगे’।

इंदौर में आज चार मरीजों की मौत, एक और डॉक्टर की गई जान
शुक्रवार को इंदौर में कोरोना से चार और मरीजों की मौत हो गई| कोरोना से एक और डॉक्टर की मौत हुई है । दो दिन में यह दूसरे डॉक्टर की मौत हुई हैं। बताया जा रहा है कि डॉक्टर पूर्व में धार में जिला आयुष अधिकारी बतौर सेवाएं दे चुके है। ब्रह्मबाग कालोनी में विगत गई दिनों से निवासरत डॉक्टर पिछले काफी समय से अपने प्रायवेट क्लिनिक में क्षेत्र के रहवासियों का इलाज कर रहे थे।
डॉक्टर के कोरोना संक्रमित होने के बाद उन्हें सबसे पहले निजी अस्पताल में भर्ती किया गया था। लगातार इलाज के बाद भी डॉक्टर के स्वास्थ्य में कोई सुधार नहीं हो रहा था और उनकी स्थिति ज्यादा खराब होती चली गई। डॉक्टर को बाद में अरविन्दो अस्पताल में भर्ती किया गया था जहां पर आज उपचार के दौरान उनकी मौत गई। शहर में अब 235 मरीज कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं। इनमें से अब तक कुल 27 मरीजों की मौत हो चुकी है। इंदौर मेडिकल कॉलेज के मुताबिक एक मौत 7 अप्रैल और दो मौत 8 अप्रैल को हुई है। इससे पहले गुरुवार को एक डाक्टर शत्रुघ्न पंजवानी की मौत हो गई थी। एक के बाद एक डॉक्टरों की मौत से देशभर में हड़कंप मच गया है।