प्रतिनियुक्ति पर ड्यूटी बजा रहे प्रोफेसरों की कॉलेजों में जल्द होगी वापसी

-deputation-professors'-will-soon-return-in-colleges--

भोपाल। कॉलेजों में पढ़ाई का कार्य छोड़कर दूसरे विभागों में प्रतिनियुक्ति पर ड्यूटी बजा रहे प्रोफेसरों की जल्द ही कॉलेजों में वापसी होगी और वे कक्षाओं में बच्चों को पढ़ाते नजर आएंगे। उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने इसके संकेत दे दिए हैं। साथ ही विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि जल्द ही प्रतिनियुक्ति खत्म प्रोफेसरों को मूल विभाग में लौटाएं। पटवारी ने राजधानी के नूतन कॉलेज का औचक निरीक्षण किया।

पटवारी ने निरीक्षण के दौरान मौजूद आयुक्त उच्च शिक्षा अजीत कुमार को प्रोफेसरों की प्रतिनियुक्ति तत्काल प्रभाव से समाप्त करने के आदेश जारी करने के निर्देश दिये। साथ ही छात्रों की उपस्थिति अनिवार्य रूप से 80 प्रतिशत सुनिश्चित करने को कहा। इस दौरान उन्होंने महिला प्रोफेसरों से बात की और उनके अनुभव और टीचिंग क्षेत्र में आयी कठिनाइयों के बारे में चर्चा की। पटवारी ने कहा कि बालिकाओं को नि:शुल्क शिक्षा के साथ उनके परिवहन की व्यवस्था को भी नि:शुल्क करने के लिये शीघ्र ही मुख्यमंत्री से चर्चा कर आवश्यक निर्णय लिया जायेगा।


समय पर आएं प्रोफेसर

मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में लगभग 15 जिले ऐसे हैं, जिनमें छात्राएँ मुश्किल से कॉलेज जा पाती हैं। इसका मुख्य कारण कॉलेजों में प्रोफेसर्स की अनुपस्थिति है। उन्होंने निर्देश दिये कि कॉलेजों में अब समयबद्ध उपस्थिति अनिवार्य होगी। भविष्य में अगर इसकी पुनरावृत्ति होती है तो सख्त कार्यवाही की जायेगी।

बदले जायेंगे पुराने उपकरण

नूतन कॉलेज की केमेस्ट्री लैब के निरीक्षण के दौरान उच्च शिक्षा मंत्री ने जब पुराने कम्प्यूटर और उपकरणों को देखा तो तुरंत उन्हें राइट ऑफ कर आधुनिक उपकरणों के लिये प्रस्ताव भेजने के निर्देश दिये