डिप्टी सेक्रेटरी की संदिग्ध हालात में मौत, घर में थे बंद, दरवाजा तोड़कर निकाला गया शव

भोपाल,डेस्क रिपोर्ट

आदिम जाति कल्याण विभाग में डिप्टी सेक्रेटरी लखन सिंह टेकाम की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। सोमवार शाम उनका शव बागमुगालिया स्थित उनके डुप्लेक्स में मिला। कुछ दिनों से उनकी पत्नी से बातचीत नहीं हो रही थी। इस दौरान कमरे के बाहर रखी खाने की थाली नहीं उठी तो पत्नी को किसी अनहोनी का अंदेशा हुआ। दरवाजा तोड़ने पर लखन सिंह टेकाम का शव मिला। पुलिस के मुताबिक उनकी मौत दो दिन पहले ही हो चुकी थी। डिप्टी कलेक्टर रैंक के अधिकारी लखन सिंह टेकाम कुछ समय पहले ही अपने चार इमली के सरकारी आवास से यहां डुप्लेक्स में रहने आए थे।

जानकारी के मुताबिक यह डुप्लेक्स उन्होने कुछ समय पहले ही खरीदा था जहां उनकी पत्नी ज्योति टेकाम और उनका ग्यारह साल का बेटा साथ में रहता था। ये भी कहा जा रहा है कि पत्नी और बच्चा नीचे वाले फ्लोर में रहते थे और लखन टेकाम ऊपर वाले फ्लोर में रहा करते थे। पेबल वे कॉलोनी निवासी 56 वर्षीय लखन सिंह राखी के बाद से दफ्तर भी नहीं जा रहे थे और खबरों के मुताबिक उन्हें शराब पीने की आदत थी। इसी कारण पति-पत्नी में कुछ दिनों से बातचीत बंद थी। पत्नी के अनुसार वो रोजाना उनके कमरे के बाहर खाना रख देती थी लेकिन दो दिन से उन्होने खाने की थाली नहीं उठाई तो उन्हें शंका हुई। इसके बाद  सोमवार को पत्नी ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने पहुंचकर दरवाजा तोड़ा तो अंदर उनका शव मिला। शुरूआती जांच में पुलिस का कहना है कि उनके शरीर पर चोट के कोई निशान नहीं है लेकिन मौत की असल वजह पोस्टमार्टम के बाद ही पता चल पाएगी।