प्रतिष्ठा का सवाल बना डिप्टी स्पीकर का पद, कैबिनेट मंत्री ने किया ‘जंग’ का ऐलान !

deputy-speaker-post-become-pride-issue-for-bjp-and-congress

भोपाल। मध्य प्रदेश में विधानसभा अध्यक्ष पर चली सियासत अब डिप्टी स्पीकर पद के लिए ‘जंग’ में बदल गई है। विस अध्यक्ष पद के लिए मुंह की खाने के बाद अब पार्टी ने डिप्टी स्पीकर पद के लिए भी अपना उम्मीदवार उतारने का ऐलान कर दिया है। इस तरह दोनों दलों में अब यह प्रतिष्ठा का मुद्दा बन गया है। कमलनाथ के मंत्री ने बड़ा बयान दिया है। लोकनिर्माण मंत्री सज्जन सिंह ने कहा कि इस जंग की शुरूआत बीजेपी ने की थी इसलिए अब इसे जंग की तरह की लड़ा जाएगा। उन्होंने सख्त लहजे में कहा कि अब डिप्टी स्पीकर का पद भी कांग्रेस अपने पास रखेगी। उन्होंने आरोप लगाया कि यह परंपरा बीजेपी ने तोड़ी है। तो इसका खामियाजा भी उसे ही उठाना होगा। 

इस मसले पर संसदीय मंत्री गोविंद सिंह ने भी मीडिया से चर्चा में साफ कर दिया कि डिप्टी स्पीकर के लिए चुनाव होगा। उन्होंने कहा कि स्पीकर पद के लिए उम्मीदवार उतारकर बीजेपी ने परंपरा तोड़ी है। इसलिए अब डिप्टी स्पीकर के लिए चुनाव होगा और हम यह पद बीजेपी को नहीं देंगे। यही नहीं कांग्रेस पूरी तरह से बीजेपी पर हमलावर हो गई है। कांग्रेस की ओर से डिप्टी स्पीकर पद के लिए हिना कावरे मैदान में हैं। उन्होंने भी इस मसले पर बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि परंपरा तोड़ने का खामियाजा बीजेपी को भुगतना होगा।

विधानसभा की परंपरा के अनुसार अब तक डिप्टी स्पीकर का पद विपक्ष को दे दिया जाता था। लेकिन अध्यक्ष पद के चुनाव के समय हुए विपक्ष के हंगामे और आरोपों के बाद अब कांग्रेस उपाध्यक्ष पद के लिए भी अपना प्रत्याशी खड़ा किया है। अगर वोटिंग में भाजपा पिछड़ी तो उपाध्यक्ष पद भी गंवाना पड़ेगा| कांग्रेस ने बालाघाट जिले की लांजी विधानसभा क्षेत्र से विधायक हिना कांवरे को उपाध्यक्ष पद का प्रत्याशी बनाया है। हिना को कुछ दिन पहले पार्टी ने राष्ट्रीय प्रवक्ता भी बनाया है। वहीं बीजेपी ने मंदसौर जिले की मल्हारगढ़ विधानसभा से विधायक जगदीश देवड़ा का नाम घोषित किया है।