कृषि मंत्री

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में मानसून (Monsoon 2021) की दस्तक हो गई है और कई जिलों में झमाझम का दौर भी जारी है।वही बारिश के दिनों में नदी-नालों के उफान पर आने से हादसों की संभावना बढ़ जाती है, ऐसे में कृषि मंत्री कमल पटेल (Agriculture Minister Kamal Patel) ने हरदा जिले के अधिकारियों को निर्देशित किया कि वर्षा ऋतु को दृष्टिगत रखते हुए पुलिया और रपटों के कार्य को गंभीरता से किया जाना सुनिश्चित करें।किसी भी सूरत में जिला मुख्यालय से गाँवो का संपर्क कटना नहीं चाहिए।

यह भी पढ़े.. Employment : मप्र में जल्द खुलेंगे रोजगार के बड़े अवसर, अगस्त तक पूरा होगा काम

दरअसल, आज कृषि मंत्री कमल पटेल जिला पंचायत हरदा में आपदा प्रबंधन की तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे।इस दौरान उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिले के समस्त ग्रामों का जिला मुख्यालय से सतत संपर्क बनाए रखने के लिए आवश्यक पुलिया और रपटों का आंकलन किया जाकर विस्तृत योजना तैयार की जाए। योजनाओं को मंजूरी प्रदान की जाकर विकासात्मक कार्यों को निरंतर संचालित किया जाएगा।अधिकारियों को बाढ़ की समस्या से निपटने के लिए पुख्ता तैयारियों के निर्देश दिए।

कृषि मंत्री  पटेल ने आपदा प्रबंधन के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वालों को प्रोत्साहित करने को भी कहा हैं।हरदा शहर को अतिक्रमण मुक्त बनाने के लिए राजस्व अमले को आवश्यकता के अनुसार पुलिस बल उपलब्ध कराए जाने के निर्देश पुलिस अधीक्षक को दिए।  पटेल ने निर्देशित किया कि सड़कों पर घूमने वाले मवेशियों को पकड़ा जाए। उनके मालिकों को समझाइश दी जाए और आवश्यकता होने पर मवेशियों को कांजी हाउस में रखने की समुचित व्यवस्था की जाए। हर गाँव में केम्प लगाकर शत-प्रतिशत जाति प्रमाण-पत्र बनाये जाने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़े.. Transfer: मप्र में अधिकारियों-कर्मचारियों के थोकबंद तबादले, यहां देखें लिस्ट

कृषि मंत्री  पटेल ने कहा कि जाति प्रमाण-पत्र के अभाव में कोई भी पात्र हितग्राही शासन की योजनाओं से वंचित न रहे। जिले में हर पात्र नागरिक को शासकीय योजनाओं का लाभ मिल सके।वही जिला अस्पताल हरदा को सौ बेड प्रदान किए जो की एक उर्वरक कंपनी के द्वारा CSR मद से नि:शुल्क प्रदान किए गए हैं। वही कहा कि आने वाले समय में जिला अस्पताल में मरीजों के उपचार के लिए सभी सुविधाएँ मुहैया रहेंगी। उन्होंने भारत सरकार के रक्षा मंत्रालय द्वारा एक और ऑक्सीजन प्लांट की स्वीकृति दिए जाने पर केन्द्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का आभार व्यक्त किया है।