धार कारम नदी डेम लीकेज मामला : CM शिवराज की अपील, यह वक़्त राजनीति का नहीं, सहयोग करे

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश के धार जिले के कारम नदी पर बने बांध के लीकेज मामला पिछले दो दिनों से पूरे देश में सुर्खियों में बना हुआ है वही लेकर लगातार सीएम शिवराज की मॉनीटीरिंग जारी है, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लगातार आला अधिकारियों के संपर्क में है सीएम शिवराज ने अपील की है, उन्होंने कहा कि अपनी पूरी टीम के साथ अभी भी मैं वल्लभ भवन के कंट्रोल रूम में बैठा हूँ,  सीएस, डीजीपी, एसीएस सहित पूरी टीम धार जिले के कारम डैम पर नजर रखे हुए हैं, जनता पूरी तरह से सुरक्षित रहे इसके लिए युद्ध स्तर पर प्रयास चल रहे हैं, स्थिति नियंत्रण में है, कल हमने बायपास चैनल बनाकर पानी की निकासी प्रारंभ की थी, उम्मीद यह थी कि एक बार पानी की निकासी शुरू होने के बाद जो मिट्टी की वाल बनी हुई है वह तेजी से चौड़ी होगी और पानी अधिक मात्रा में निकलेगा लेकिन साइड वाल के कारण वहां उतनी तेजी से कटी नहीं और इसलिए हम यह लगातार प्रयास कर रहे हैं कि पानी को कैसे हम और ज्यादा मात्रा में निकालें।

यह भी पढ़ें…. धार कारम नदी डेम लीकेज मामला : रात तीन बजे तक CM शिवराज ने की मॉनिटरिंग

सीएम ने कहा कि  कल लगभग 10 क्यूमेक बहाव हो रहा था, उसे आज बढ़ाकर हम 35 क्यूमेक् तक ले आए हैं, इसको और बढ़ाने के जो उपाय हो सकते हैं उन पर भी हम विचार कर रहे हैं, हमारी प्राथमिकता है जनता को सुरक्षित रखना और जनता सुरक्षित स्थानों पर है, जल्द से जल्द पानी खाली करके पूरी तरह से सुरक्षित माहौल बना लें इसकी कोशिश लगातार पूरी टीम कर रही है, डैम साइट पर भी हमारे तीन मंत्री तुलसी सिलावट, राजवर्धन दत्तीगांव , प्रभु राम चौधरी उपस्थित हैं।  दिल्ली से आए हुए विशेषज्ञ भी वहां मौजूद है, ईएनसी चीफ इंजीनियर भी वहां मौजूद हैं। चीफ इंजीनियर सहित हमारी बाकी टीम भी कमिश्नर, आईजी, कलेक्टर और एसपी सहित सब फील्ड में हैं।

यह भी पढ़ें…. धार कारम डेम मामला : CM ने बँधाया लोगों को ढांढस कहा- सरकार और शिवराज हर हाल में साथ

चिंता की कोई बात नहीं है। लेकिन जब तक हम पूरा पानी नहीं निकाल देते तब तक हम चैन से नहीं बैठेंगे। इसलिए लगातार प्रयत्न जारी है। मैं इतना जरूर कहना चाहता हूं “संकट के समय आरोप-प्रत्यारोप के वजह हमें राजनीतिक दलों की सीमाओं से ऊपर उठकर पहला ध्यान जनता की सुरक्षा पर देना चाहिए।” ताकि हम विश्वास का वातावरण निर्मित कर सके। यह समय राजनीति करने का नहीं है यह समय कैसे हम परिस्थितियों को नियंत्रित करके लोगों को सुरक्षित रखें यह समय इसका है। मैं सभी का सहयोग चाहता हूं। मैं अपने उन भाइयों बहनों का आभारी हूं जिन्होंने प्रशासन की बात मानी और सुरक्षित ऊंचे स्थानों पर गए हैं, उन्हें दिक्कतें घर से बाहर जाने में होती है यह बात स्वाभाविक है। लेकिन, वह पूरा सहयोग कर रहे हैं और हमारी प्रतिबद्धता है अपनी जनता की जिंदगी की सुरक्षा, मवेशियों को कोई नुकसान ना पहुंचे और इसके अलावा हम लगातार कोशिश कर रहे हैं गांव को भी कोई नुकसान ना पहुंचे।

यह भी पढ़ें…. Viral Video पर बोलीं इमरती देवी, किसी का मुँह चलेगा तो किसी का हाथ, तहसीलदार पर लगाए गंभीर आरोप

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि आप सभी का पूर्ण सहयोग मिलेगा, या मेरा विश्वास भी है और यह मेरी अपील भी है। मैं इतना जरूर कहना चाहता हूं “संकट के समय आरोप-प्रत्यारोप की जगह हमें राजनीतिक दलों की सीमाओं से ऊपर उठकर पहला ध्यान जनता की सुरक्षा पर देना चाहिए।” ताकि हम विश्वास का वातावरण निर्मित कर सके। यह समय राजनीति करने का नहीं है , यह समय कैसे हम परिस्थितियों को नियंत्रित करके लोगों को सुरक्षित रखें यह समय इसका है। मैं सभी का सहयोग चाहता हूं। मैं अपने उन भाइयों बहनों का आभारी हूं जिन्होंने प्रशासन की बात मानी और सुरक्षित ऊंचे स्थानों पर गए हैं, उन्हें दिक्कतें घर से बाहर जाने में होती है यह बात स्वाभाविक है। लेकिन, वह पूरा सहयोग कर रहे हैं और हमारी प्रतिबद्धता है अपनी जनता की जिंदगी की सुरक्षा, मवेशियों को कोई नुकसान ना पहुंचे और इसके अलावा हम लगातार कोशिश कर रहे हैं गांव को भी कोई नुकसान ना पहुंचे। आप सभी का पूर्ण सहयोग मिलेगा, या मेरा विश्वास भी है और यह मेरी अपील भी है।