केश और शराब तस्करों पर रखें पैनी नजर, चुनावी सुरक्षा में न हो चूक : डीआईजी

DIG-Irshad-Wali-and-collector-Sudama-Khade-meeting-in-the-police-control-room

भोपाल। आगामी लोक सभा चुनाव के मद्दे नजर राजधानी में बुधवार सुबह डीआईजी इरशाद वली और कलेक्टर सुदामा खाड़े ने जिला प्रशासन और पुलिस विभाग के अधिकारिययों कर्मचारियों की बैठक ली। जिसमें आदर्श आचार संहिता का कड़ाई से पालन कराने, सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने संपत्ती विरूपण के अपराधों संबंधी अपराध, शराब, मादक तस्करों,गुंडे और बदमाशों पर लगाम लगाने एहम आदेश और निर्देश दिए गए। इस दौरान डीआईजी इरशाद वली ने कहा की चुनाव के दौरान किसी प्रकार की चूक न हो इसके लिए केश और शराब तस्कतरों पर चेकिंग के दौरान बारीकी से नजरें रखी जाए। 

जानकारी के अनुसार बैठक में राजधानी के पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने मिलकर लोकसभा चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए रणनीति बनाई। इस दौरान निर्भीक मतदान के लिए भी अधिकारियों ने चर्चा की। सीमावर्ती क्षेत्रों में वाहनों एवं व्यक्तियों की आवाजाही पर निगरानी रखने, अपराधियों पर नकेल कसने, अवैध हथियारों की बरामदगी, वारंट तामिली के साथ ही मादक पदार्थोकी तस्करी एवं आपराधिक गतिविधियों पर अंकुश लगाने के लिए लगातार समन्वय एवं संपर्क के लिए पुलिस अधिकारियों की संयुक्त टीम गठित किए जाने का निर्णय लिया। भोपाल में प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों ने कानून एवं शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए हरसंभव उपायों को अमल में लाने पर विस्तारपूर्वक चर्चा की गई। बैठक में डीआईजी के साथ कलेक्टर तथा एसपी,एएसपी, सीएसपी, एडीएम,एसडीएम एवं एआरओ शामिल रहे। 

वॉट्सएप पर बनाया जाएगा ग्रुप

चुनाव के दौरान होने वाली गतिविधियों की जानकारी प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों को मिलती रहे इसके लिए वॉट्सएप पर एक कॉर्डिनेशन गु्रप बनाए जाने पर भी बैठक के दौरान बात की गई है। इस ग्रुप में जिले के कलेक्टर डीआईजी, एसपी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, राजपत्रित, पुलिस अधिकारी, रेवेन्यू ऑफिसर एवं थाना प्रभारी जोड़े  जा सकते हैं। जिससे आपराधिक गतिविधियों एवं आपराधिक तत्वों की गतिविधियों के बारे में लगातार सूचनाओं और जानकारी का आदान प्रदान हो सके।