दिग्विजय सिंह बोले – गलत भाषा का उपयोग करना कांग्रेस की नहीं, भाजपा की संस्कृति

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह (Former Chief Minister And Rajyasabha MP) ओरछा (Orcha) पहुंचे, जहां उन्होंने रामराजा सरकार (Ramraj Sarkar) के दरबार में मत्था टेका। उनके साथ मध्य प्रदेश शासन के पूर्व मंत्री बृजेंद्र सिंह राठौर (Former Minister Brijendra Singh Rathore) भी रहे। इस दौरान कांग्रेस के कार्यकर्ता एवं पदाधिकारी मौजूद रहे।

ओरछा पहुंचने पर दिग्विजय सिंह ने कहा कि उन्होंने रामराजा सरकार के दरबार में आकर पूरे भारतवर्ष एवं विश्व कल्याण के लिए मनोकामना मांगी है कि कोरोना महामारी से जल्द ही सभी लोगों को मुक्ति मिले। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) द्वारा कमलनाथ (Kamal Nath) एवं दिग्विजय सिंह को बड़े मियां एवं छोटे मियां की जोड़ी बताने के सवाल पर दिग्विजय सिंह ने कहा कि गलत भाषा का उपयोग करना कांग्रेस (Congress) की संस्कृति नहीं है, ये संस्कृति भाजपा (BJP) की है। वहीं जब उनसे पूछा गया कि ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने मंच पर बोला है कि 20 साल से वो कांग्रेस को भोग रहे हैं, इसके जवाब में दिग्विजय सिंह ने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सुख भोगा है। कांग्रेस को भोगा है, मंत्री पद भोगा है, एआईसीसी के चेयरमैन पद को भोगा है।

वहीं मध्यप्रदेश में ऑक्सीजन की कमी (Shortage Of Oxygen In MP) को लेकर दिग्विजय सिंह ने कहा कि इस संबंध में शासन को जरूर पहल करनी चाहिए और वो भी अपनी ओर से पहल करेंगे। कंगना रानौत के ऊपर पूछे गए सवाल पर दिग्विजय सिंह चुप्पी साध गए और हंसकर कहने लगे कि ये काम मीडिया एवं पत्रकारों का है, एक समय में ठाकरे परिवार के खिलाफ यही दिग्विजय सिंह मुखर होकर बोला करते थे और कई बार आरोप लगाए कि ठाकरे परिवार भी स्वयं मुंबई का नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here