दिग्विजय सिंह ने केरल CM को लिखा पत्र, मजदूरों के लिए की मदद की मांग

भोपाल।

देशव्यापी कोरोना महामारी(corona pandemic) के बीच मजदूरों का वापस अपने गृहनगर लौटने का सिलसिला जारी है। अचानक से हुए लॉकडाउन(lockdown) की वजह से कई मजदूर(labours), छात्र(students), पर्यटक, जहाँ थे। वहीँ फंसे रह गए। इस बीच मजदूरों की गुहार के बाद प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस(congress) के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह(digvijay singh) ने केरल(kerela) से मजदूरों को वापस बुलाने के लिए केरल सीएम(kerala cm) को पत्र(letter) लाख उनसे मदद मांगी है। पत्र में दिग्विजय सिंह ने श्रमिकों को एमपी(MP) भेजने में मदद की मांग की है।

दरअसल सोमवार को लिखे अपने पत्र में दिग्विजय सिंह ने कहा है कि इन मजदूरों के पास न तो रहने के लिए कोई उचित आश्रय स्थल है और न ही इनके खाने-पीने की कोई व्यवस्था है। ये वहां बहुत मुश्किल हालात में दिन काट रहे हैं। कृपया मध्यप्रदेश सरकार(madhyapradesh government) से सामंजस्य स्थापित करके इन लोगों को वापस इनके घर भेजने में मदद करें। वहीँ सिंह ने ये भी कहा है कि गर वो मध्य प्रदेश सरकार से सामंजस्य बनाकर इन मजदूरों को इनके घर वापस भेजने में इनकी मदद कर देंगे तो वो उनके बहुत आभारी रहेंगे। वहीँ पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने अपने पत्र के साथ इन 195 श्रमिकों की डिटेल्स भी केरल सीएम पिनाराई विजयन को भेजी है।

बता दें कि प्रदेश के 195 श्रमिकों केरल में फंसे हुए हैं। हलाकि प्रदेश से संचालित श्रमिक स्पेशल ट्रैन से लगातार मजदूरों को एमपी लाया जा रहा है। वहीँ म.प्र सरकार द्वारा प्रवासी श्रमिकों के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेन की व्यवस्था की गई है। जिसमें मध्य प्रदेश सरकार द्वारा अब तक कुल 50 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से 1 लाख 7 हजार प्रवासी श्रमिक को सकुशल वापस मध्य प्रदेश लाया जा चुका है।