चर्चा मे डा. हितेश वाजपेई का हैल्थ एसीएस सुलेमान को ट्वीट,सलूजा की आपत्ति।

बीजेपी के वरिष्ठ नेता डॉक्टर हितेश वाजपेई ने एक ट्वीट किया है। इसमे मध्य प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव मोहम्मद सुलेमान से अनुरोध किया गया है कि" वे विदेशी जमातो से ओमिक्रोम के आगमन की आशंका के प्रकाश में भोपाल इत्जिमा के आयोजन को स्थगित करवाने का विचार करें।"

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मुस्लिम समाज के विश्व के सबसे बड़े समागम मे से एक इत्जिमा को स्थगित करने की मांग उठी है। बीजेपी के वरिष्ठ नेता डॉक्टर हितेश वाजपेई ने स्वास्थ विभाग के अपर मुख्य सचिव को ट्वीट कर कोरोना के बढ़ते असर को देखते हुए यह मांग की है।

बीजेपी के वरिष्ठ नेता डॉक्टर हितेश वाजपेई ने एक ट्वीट किया है। इसमे मध्य प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव मोहम्मद सुलेमान से अनुरोध किया गया है कि” वे विदेशी जमातो से ओमिक्रोम के आगमन की आशंका के प्रकाश में भोपाल इत्जिमा के आयोजन को स्थगित करवाने का विचार करें।” डॉक्टर हितेश वाजपेई ने उदाहरण दिया है कि कोरोना का भारत में आगमन जमातो की ही देन था। ऐसे में अगर इस समय इत्जिमा आयोजित किया जाता है तो जाहिर तौर पर कोरोना फैलने की संभावना से इन्कार नहीं किया जा सकता।

इत्जिमा विश्व भर के मुस्लिम समुदाय का धार्मिक समागम है। इसमे मुस्लिम विद्वान और मौलवियों के व्याख्यान होते हैं। साथ ही इस्लामी जीवन शैली और सिद्धांतों के बारे में बात होती है और अंतिम प्रार्थना की बात जमाते बनाई जाती है जो इस्लाम के बारे में प्रचार के लिए दुनिया भर में यात्रा करती है। अंतिम प्रार्थना के दौरान लगभग दस लाख लोग एकत्र होते हैं और तीन दिन तक लगभग 5 लाख लोग इस समय मैदान में रहते हैं। जाहिर तौर पर इतनी बड़ी संख्या का उपस्थित होना कोरोना फैलाने में सहायक साबित हो सकता है। ऐसे में डॉक्टर हितेश वाजपेई का मानना है कि इसे फिलहाल स्थगित करना चाहिए क्योंकि देश के साथ-साथ प्रदेश में भी कोरोना फैल रहा है और भोपाल में सबसे ज्यादा मरीज निकल रहे हैं।

वहीं कांग्रेस ने डॉक्टर वाजपेई के मोहम्मद सुलेमान को किए गए ट्वीट पर आपत्ति जताई है कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने डा.वाजपेई से पूछा है कि “किसी भी आयोजन को अनुमति देने का काम सरकार और प्रशासन का होता है ना कि स्वास्थ्य विभाग के पी एस का। वैसे भी प्रदेश में आप की सरकार है, फिर सुलेमान जी से अनुरोध क्यों? क्या धर्म के आधार पर उनसे मांग कर रहे हैं? उस हिसाब से तो आपको यह मांग शाहनवाज हुसैन व नकवी जी से करनी चाहिए।”

चर्चा मे डा. हितेश वाजपेई का हैल्थ एसीएस सुलेमान को ट्वीट,सलूजा की आपत्ति।

वहीं बीजेपी के वरिष्ठ विधायक रामेश्वर शर्मा ने भी डॉक्टर हितेश वाजपेई द्वारा किए गए ट्वीट का समर्थन किया है। रामेश्वर ने हितेश के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए लिखा है कि “संभावित खतरे को देखते हुए डॉक्टर साहब आपके चिन्ता सही है।”

चर्चा मे डा. हितेश वाजपेई का हैल्थ एसीएस सुलेमान को ट्वीट,सलूजा की आपत्ति।