एक तरफ कुत्तों का आतंक, दूसरी तरफ निगम की लड़ाई

Dog-Terror-in-bhopal-madhyrpadesh-

भोपाल।

राजधानी भोपाल में आवारा कुत्तों के आतंक पर जिला प्रशासन और नगर निगम में ठनी हुई है। आवारा कुत्ते के नोचने से बहुत से छोटे बच्चे की जान जाने के बाद नगर निगम और जिला प्रशासन की बैठक में भोपाल के चारो कोनो में एनिमल बर्थ कंट्रोल सेंटर खोलना तय हुआ था, लेकिन जिला प्रशासन के उदास रवैये के कारण अभी तक नगर निगम को जमीन नही मिली है।

ऐसे में राजधानी भोपाल मे कुत्तों ने आतंक मचा रखा है बच्चों पर लगातार खूंखार कुत्ते हमले कर रहे है।नगर निगम और महापौर आलोक शर्मा जल्द इस गंभीर समस्या से हल निकालने का दावा कर रहा है, लेकिन जो जमीनी हालात है वो कई सवाल खड़े कर रहे है।

दरअसल शहर मे कुत्तों की नसबंदी के लिए एक ही एनिमल बर्थ कंट्रोल (एसीबी) का एक ही सेंटर है और इसे बढ़ाने की बात कही जा रही लेकिन निगम और जिला प्रशासन  की नूराकुश्ती मे शायद एसीबी खोलने का दावा फुस ना हो जाए। क्योंकि महापौर आलोक शर्मा का कहना है कई बार मांग करने के बाद भी एसीबी सेंटर के लिए जिला प्रशासन जमीन नहीं आंवटित कर रहा है इस को लेकर वो संभागायुक्त से मुलाकात करेंगे। नाराजगी भरे लहजे में महापौर आलोक शर्मा ने निगम अधिकारियों को निर्देश दिए है कि निगम की जमीन में कहां सेंटर खोल सकते हैं, जगह चिन्हित करें।नगर निगम के आयुक्त विजय दत्ता का कहना है एक एसीबी सेंटर से कुछ नही होने वाला नए एबीसी सेंटर खोलने की जरूरत है।