‘मादक पदार्थ मुक्त भोपाल’ बनाने चलेगा अभियान, संभागायुक्त ने सभी वर्गों से की सहभागिता की अपील

Drug-Free-Bhopal-campaign-start-from-22-march--

भोपाल|   नशे की लत सिर्फ सेवन करने वाले को ही नहीं बल्कि उसके पूरे परिवार व समाज को नष्ट कर देती है। लोगों को नशे से मुक्ति दिलाने व शहर को नशा मुक्त बनाने की दिशा में भोपाल में अभियान शुरू किया जा रहा है| संभागायुक्त कल्पना श्रीवास्तव के नेतृत्व में शहर को मादक पदार्थों के सेवन से मुक्त कराने के लिए 22 मार्च से जनजागरूकता अभियान चलाकर नागरिकों विशेषत: युवाओं को जागरूक किया जाएगा। उन्होंने आमजनों से भी भोपाल को मादक पदार्थों से मुक्त बनाने के लिए इस अभियान से जुड़कर सहयोग करने की अपील की है| संभागायुक्त ने आज शिक्षण संस्थाओं, अशासकीय संगठनों के पदाधिकारियों आदि के साथ बैठक कर अभियान की कार्ययोजना को अंतिम रूप दिया। आई.जी. श्री जयदीप प्रसाद बैठक में विशेष रूप से मौजूद थे। 

बैठक में विभिन्न शैक्षणिक संस्थाओं को चार तरह की गतिविधियों के लिए दायित्व सौंपे गए। उन्होंने 15 अप्रैल तक सभी महाविद्यालयों,विश्वविद्यालयों एवं तकनीकी महाविद्यालयों में यूथ क्लब के गठन, पालक शिक्षक बैठक, सेमीनार के आयोजन और खेल गतिविधियों के संचालन प्रारंभ किए जाने के लिए कहा है। बैठक में तय किया गया कि कालेज में प्रवेश के समय ही खेल और सांस्कृतिक गतिविधियों को रूचि अनुसार समूह से जोड़ा जाएगा। संभागायुक्त ने नए शिक्षण सत्र से इन गतिविधियों को प्रारंभ कराने के उच्च और तकनीकी शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। उन्होंने तकनीकी कालेजों में स्पोर्ट्स टीचर को तैनात करने के लिए कहा है। बैठक में खेल और सांस्कृतिक गतिविधि कैलेंडर को भी अंतिम रूप दिया गया। बैठक में जागरूकता के लिए तैयार की गई प्रचार- सामग्री को भी अंतिम रूप दिया गया। 

संभागायुक्त कल्पना श्रीवास्तव ने अब तक मादक पदार्थों के अवैधानिक विक्रय आदि के चिन्हित किए गए स्थलों और सेवन करने वाले व्यक्तियों और स्थानों की पहचान प्रगति पर संतोष व्यक्त किया। विभिन्न स्तरों पर मादक पदार्थों के अवैधानिक विक्रय स्थलों की सूची पुलिस को सौंपी और तत्काल ऐसे अड्डों को समाप्त करने के लिए कहा।  वहीं  आईजी जयदीप प्रसाद ने आश्वस्त किया कि मादक पदार्थों के अवैध कारोबार को रोकने के लिए तत्काल कदम उठाए जा रहे हैं। आबकारी विभाग के अधिकारी से कहा गया है कि वे शासन के नियम अनुसार शराब दुकानों का संचालन कराएं और शैक्षणिक संस्थाओं के आसपास होने वाली गतिविधियों पर रोक लगाएं। 

मिल्क पार्लर्स पर न हो पान गुटखे का विक्रय

भोपाल सहकारी दुग्ध संघ द्वारा संचालित मिल्क पार्लर्स पर पान, गुटका, तम्बाकू एवं जंक फूड्स के विक्रय पर अब कड़ी कार्रवाई की जायेगी|  संभागायुक्त श्रीमती श्रीवास्तव द्वारा ऐसे मिल्क पार्लर्स पर विक्रय किए जा रहे पान, गुटका, तम्बाकू एवं जंक फूड्स तत्काल प्रतिबंधित करने की कार्यवाही के निर्देश भी संबंधितों को दिए गए। इस बीच संभागायुक्त ने आमजनों से अपील की है कि वे भोपाल को मादक पदार्थों से मुक्त बनाने के लिए इस अभियान से जुड़कर सहयोग करें।