लॉकडाउन के दौरान डॉक्टर्स ने एक प्रसूता के पेट से निकाला 15 किलो का ट्यूमर

भोपाल ।

भोपाल के सुल्तानिया अस्पताल के डॉक्टर्स ने लाकडाउन के दौरान एक प्रसूता के पेट से 15 किलो का ट्यूमर निकाला है। रायसेन के सिलवानी की रहने वाली रजनी नाम की महिला की डिलेवरी का टाइम पूरा हो जाने पर परिजन उसे लेकर सुल्तानिया अस्पताल पहुंचे थे, लेकिन
डॉक्टर्स ने जांच की तो मालूम हुआ कि बच्चे की पेट में मौत हो चुकी है। डॉक्टर्स ने अगले दिन प्रसव कराया तो महिला ने मृत बच्चे को जन्म दिया. इसके बाद डॉक्टर्स ने हफ्ते भर बाद उसके पेट से 15 किलो का ट्यूमर निकाला।

सुल्तानिया अस्पताल में रजनी के पेट के ट्यूमर की सर्जरी करने वाली डॉ. वरुणा पाठक ने बताया कि महिला ओपीडी में जब दिखाने आई थी तो उसके पेट का आकार असामान्य लग रहा था। ऐसे ट्यूमर 1 फ़ीसदी से कम देखने को मिलते हैं।  ट्यूमर के कारण बच्चे का विकास नहीं हो पाया और पेट में ही उसकी मौत हो गई थी लेकिन डिलेवरी के बाद उसका ट्यूमर निकाला गया। अब महिला की हालत ठीक है। डा. वरुणा पाठक, डा नीतू भारंग, निश्चेतना विशेषज्ञ डॉ. रजनी ठाकुर की टीम ने सर्जरी कर ट्यूमर निकाला।