election-Commission-ban-on-contest-election-of-theese-leaders-of-madhya-pradesh

भोपाल।

देश में चुनावी बिगुल बजते ही राजनैतिक पार्टियों के साथ साथ चुनाव आयोग भी अलर्ट हो गया है।आयोग ने पिछले चुनाव के खर्च का ब्यौरा ना देने पर नेताओं पर सख्ती करना शुरु कर दिया है। आयोग ने मध्यप्रदेश के करीब 74 नेताओं के चुनाव लड़ने पर रोक लगा दी है।इसके साथ ही आयोग ने इन नेताओं को दो से तीन साल के लिए अयोग्य भी घोषित कर दिया है।इसमें सबसे पहला नाम विदिशा से चुनाव लड़े भोपाल निवासी नर्मदा प्रसाद है, जिन्हें अगस्त 2019  तक चुनाव लड़ने के लिए अयोग्य घोषित किया है, बाकी नेताओं की अवधि दो से तीन साल तक की है।आयोग ने लोकसभा चुनाव के ठीक पहले इन नेताओं की सूची जारी की है। सभी जिलों के जिला निर्वाचन पदाधिकारियों को इसकी सूची भेज दी गयी है। ऐसे नेताओं की सूची में लोकसभा क्षेत्र व विधानसभा के साथ उनके स्थायी पते की भी सूचना भेजी गयी है जिससे नाम और पते में किसी तरह का भ्रम नहीं हो। अब इन नेताओं पर ध्यान रखा जायेगा कि वे नामांकन दाखिल कर सकें।

 इन नेताओं पर लगाई रोक

विदिशा से चुनाव लड़े नर्मदा प्रसाद अहिरवार

सीधी से भागवती चरण पांडे,आशा सिंह

इंदौर से संतोष कुमार

लांजी से ज्योति उमरे, दौलत कुमार बागदे, 

सौंसर से दिलीप जैन

राऊ से सन्नी जाट, आनंद ओमप्रकाश भाटिया

मैहर से बिट्टू बाई

अनूपपूर से पुरुषोत्तम

इछावर से शैलेन्द्र रामचरण पटेल और शैलेन्द्र राधेश्याम पटेल

शाजापुर से दिलीप राजपूत, नीरज पाटीदार, राजेश सोराष्ट्रीय, सीताराम

भीकनगांव से खजान चौहान

देपालपुर से मनोज पटेल

इंदौर पांच से ललित पंवार, इमरान खान

भांडेर से नरेश धानुक

चंदेरी से राव शिवराम सिंह

मुंगावली से महेन्द्र करैयाखेड़ी, गिरिराज देवसर, राममिलन प्रजापति, अगंद प्रसाद, बाबूराम

जयसिंह नगर से राधा , रामलाल, केशव लाल, राजू बैगा, लल्लन, जगननाथ बैगा लालमन बैगा

जैतपुर से रामकुमार कौल

बहोरीबंद से आनंद लाल यादव, बाल किशन पटेल, मुन्नालाल दीवान, विजय कुमार

बैहर से शंकर शाह, रामसिंह टेकाम

परसवाड़ा से दरबू सिंह, बारेलाल उईके, निरंजन शर्मा, लोकचंद हरीखेड़ा

कटंगी से रामनिवास मसकरे, अशोक परिहार, जितेन्द्र मेश्राम, शरकुमार

बरघाट से लता उईके, किशोरीलाल भलावी

केवलारी से हेमंत , शक्ति सिंह, सतीश नाग