भोपाल की सिंधी सेंट्रल पंचायत के चुनाव पूरे, किशोर तनवानी अध्यक्ष बने और हरीश नागदेव महासचिव

गुरूवार को त्रिवर्षीय चुनाव में सिंधी सेंट्रल पंचायत का अध्यक्ष किशोर तनवानी को और हरीश नागदेव को महासचिव चुना गया है। निर्वाचित पदाधिकारियों की घोषणा चुनाव अधिकारी कन्‍हैयालाल दलवानी ने की।

Shashank Baranwal
Published on -
Bhopal

Bhopal News: राजधानी भोपाल की सबसे बड़ी सामाजिक संस्था सिंधी सेंट्रल पंचायत के चुनाव गुरूवार को संपन्न हुए। इस चुनाव में अध्यक्ष और महासचिव सहित अन्य पदों पर निर्विरोध पदाधिकारियों का चयन किया गया। इस दौरान केवल एक पद उपाध्यक्ष के चुनाव 11 फरवरी को होंगे। वहीं इस संस्था की तीन साल के नई टीम तैयार हो गई है।

अध्यक्ष के लिए चुने गए किशोर तनवानी

गुरूवार को त्रिवर्षीय चुनाव में सिंधी सेंट्रल पंचायत का अध्यक्ष किशोर तनवानी को और हरीश नागदेव को महासचिव चुना गया है। निर्वाचित पदाधिकारियों की घोषणा चुनाव अधिकारी कन्‍हैयालाल दलवानी ने की। वहीं दिनेश मेघानी, लखन दादलानी, रवि भूरानी, हरी रोहरा, मनोज नाथानी को सचिव और कोषाध्यक्ष राजेश भूरानी, ऑडीटर दर्शन कुकरेजा, सह कोषाध्‍यक्ष पंकज छुगानी को चुना गया। पंचायत के चुने गए पदाधिकारियों का स्वागत ढोल-ढमाकों और शाल श्रीफल देकर किया गया। इस अवसर पर शहर की अधिकांश मोहल्‍ला पंचायतों के पदाधिकारी और गणमान्‍य नागरिक उपस्थित रहे।

जल्द ही महिला विंग की भी की जाएगी घोषणा

वहीं, नवनिर्वाचित अध्यक्ष किशोर तनवानी ने कहा कि सबका साथ, सबको साथ लेकर काम करेंगे। तनवानी ने कहा कि जल्‍द ही महिला विंग की भी घोषणा की जाएगी। बता दें सभी निर्वाचित पदाधिकारियों का शपथ ग्रहण कार्यक्रम आगामी 25 फरवरी 2024 को होगा। उपाध्यक्ष के लिए 11 फरवरी को चुनाव किया जाएगा। उपाध्यक्ष के पांच पदों के लिए छह उम्मीदवार है। इसलिए तय किया गया कि 11 फरवरी को सुंदरवन उपाध्यक्ष के लिए चुनाव होगा।

भोपाल की सबसे पुरानी सिंधी पंचायत

बता दे सिंधी सेंट्रल पंचायत राजधानी की सिंधी मोहल्ला पंचायतों का मार्गदर्शन करती है। समाज के पर्वों को मनाती हैं। युवाओं की शिक्षा के लिए काम करती है। समाज की समस्याओं को भी उठाती है। वहीं सिंधीयत के लिए पंचायत लगातार प्रयास करती रहती है। यह पंचायत भोपाल की सबसे पुरानी सिंधी पंचायत है।

Bhopal

Bhopal

भोपाल से रवि कुमार की रिपोर्ट


About Author
Shashank Baranwal

Shashank Baranwal

पत्रकारिता उन चुनिंदा पेशों में से है जो समाज को सार्थक रूप देने में सक्षम है। पत्रकार जितना ज्यादा अपने काम के प्रति ईमानदार होगा पत्रकारिता उतनी ही ज्यादा प्रखर और प्रभावकारी होगी। पत्रकारिता एक ऐसा क्षेत्र है जिसके जरिये हम मज़लूमों, शोषितों या वो लोग जो हाशिये पर है उनकी आवाज आसानी से उठा सकते हैं। पत्रकार समाज मे उतनी ही अहम भूमिका निभाता है जितना एक साहित्यकार, समाज विचारक। ये तीनों ही पुराने पूर्वाग्रह को तोड़ते हैं और अवचेतन समाज में चेतना जागृत करने का काम करते हैं। मशहूर शायर अकबर इलाहाबादी ने अपने इस शेर में बहुत सही तरीके से पत्रकारिता की भूमिका की बात कही है– खींचो न कमानों को न तलवार निकालो जब तोप मुक़ाबिल हो तो अख़बार निकालो मैं भी एक कलम का सिपाही हूँ और पत्रकारिता से जुड़ा हुआ हूँ। मुझे साहित्य में भी रुचि है । मैं एक समतामूलक समाज बनाने के लिये तत्पर हूँ।

Other Latest News