electricity-cut-during-cast-vote-by-cm-kamalnath-in-chinddwara-

भोपाल| मध्य प्रदेश में 15 साल पहले जब दिग्विजय सिंह को सत्ता से बाहर करते हुए भाजपा सरकार में आई तब से ही बिजली को लेकर भाजपा कांग्रेस पर हमला बोलती रही और अब एक बार जब कांग्रेस सत्ता में आई है तो बिजली का मुद्दा फिर गरमा गया है| इतना ही नहीं बिजली कटौती को लेकर भाजपा और कांग्रेस में जोरदार बहस भी जारी है| इस बीच मतदान के दौरान बत्ती गुल होना भी सुर्खियां बन गया है| मुख्यमंत्री कमलनाथ वोट डालने पहुंचे तो बत्ती गुल हो गई| 

सीएम कमलनाथ छिंदवाड़ा के शिकारपुर स्थित मतदान केंद्र पर मतदान के लिए पहुंचे थे, तभी वहां की बत्ती गुल हो गई। कमलनाथ वहां अपने बेटे के नकुलनाथ के साथ वोटिंग के लिए गए थे। नकुल छिंदवाड़ा लोकसभा सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार हैं। वहीं, कमलनाथ छिंदवाड़ा विधानसभा सीट से उपचुनाव में उम्मीदवार हैं। इस दौरान एक अजीब सी स्थिति उत्पन्न हो गई| जिस समय सीएम कमलनाथ वोट डाल रहे थे, उस दौरान अचानक ही पोलिंग बूथ पर बिजली गुल हो गई| इसके बाद कमलनाथ ने मीडिया के कैमरों की रोशनी में वोट डाला| वहीं, कमलनाथ जैसे ही पोलिंग बूथ से बाहर आए, बिजली आ गई | 

वोट डालने के बाद बत्ती गुल होने पर कमलनाथ और नकुलनाथ भाजपा पर बरसे| कमलनाथ ने मीडिया से कहा कि मध्य प्रदेश की जनता इस बार सच्चाई का साथ देगी| इसके साथ ही उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि बिजली गुल करने का काम बीजेपी के लोगों ने किया है| उन्होंने कहा कि बीजेपी के लोग कहीं बिजली गुल करके और कहीं लाइन खराब करके कांग्रेस को बदनाम करने का प्रयास कर रहे हैं|