कर्मचारी संघ की सरकार से मांग- कोरोना इलाज के लिए मिले 3 लाख एडवांस

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने शिवराज सरकार  से मांग की है कि प्रदेश कर्मचारियों को अस्पताल में भर्ती होने पर 3 लाख की एडवांस राशि दिए जाए। संघ के प्रदेश सचिव उमाशंकर तिवारी ने कहा कि विद्युत वितरण विभाग द्वारा अपने कर्मचारियों को तीन लाख रूपये दिये जा रहे हैं, उसी प्रकार अन्य कर्मचारियों को भी दिये जाए।

उत्तर प्रदेश से बस परिवहन सेवा बंद, अब 7 मई तक नहीं होगी बसों की आवाजाही

बता दें कि विद्युत वितरण विभाग द्वारा अपने कर्मचारियों के कोरोना संक्रमित होने पर और भर्ती होने की स्थिति में तीन लाख रूपये इलाज हेतु अग्रिम प्रदाय किए जा रहे हैं। संघ के प्रदेश सचिव उमाशंकर तिवारी ने कहा कि ये बहुत अच्छी पहल है। इसी क्रम में प्रदेश में कार्यरत राज्य शासन, निगम मंडलों, स्थाई कर्मी, दैनिक वेतन भोगी संविदा सहित सभी के लिये ये प्रावधान होना चाहिए। कोरोना संक्रमित होने पर उसके इलाज के लिए कर्मचारी को तीन लाख एडवांस राशि दी जाए। मध्यप्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के प्रदेश सचिव उमाशंकर तिवारी ने मुख्यमंत्री एवं मुख्य सचिव से मांग की है कि आजकल अस्पताल इलाज के लिए एडवांस राशि मांग रहे हैं। सरकार ने राज्य शासन के कर्मचारियों को इलाज हेतु अस्पताल अधिकृत कर रखे हैं लेकिन वर्तमान में इलाज हेतु जहां जगह मिले वहीं इलाज कराया जा रहा है। उन्होने कहा कि इसको देखते हुए प्रदेश में कार्यरत कर्मचारियों को अग्रिम स्वीकृत किए जाने से इस बीमारी का इलाज कराने में सुविधा होगी।