Employment: अब मछली पालन से युवाओं को जोड़ रोजगार उपलब्ध करवाएगी शिवराज सरकार

mp-government-action-on-adulteration-in-madhya-pradesh-

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट

युवाओं को रोजगार (Youth employment) को लेकर प्रदेश की शिवराज सरकार (Shivraj Sarkar) लगातार नए प्रयास कर रही है। आए दिन सरकार द्वारा नए नए फैसले लिए जा रहे है। हाल ही में सरकार ने फैसला लिया है कि सरकारी नौकरियां केवल मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के युवाओं को ही दी जाएगी, वही प्रदेश की शासकीय नौकरियों के लिए युवाओं को अलग से कोई परीक्षा देने की आवश्यकता नहीं होगी। #NRA द्वारा आयोजित परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर ही इन्हें प्रदेश की शासकीय नौकरियां मिलेंगी। इसी कड़ी में अब  जल संसाधन, मछुआ कल्याण और मत्स्य विकास विभाग मंत्री तुलसीराम सिलावट (Minister Tulsiram Silavat) ने भी युवाओं के हित में एक नया फैसला लिया है।

दरअसल, मंत्री सिलावट ने विभागीय समीक्षा बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिए है कि प्रदेश में मत्स्य उत्‍पादन को बढ़ाने और मत्स्य व्यवसाय से युवाओं जोड़ा जाए। उन्होंने मछुआ सहकारी समितियों में युवाओं की भागीदारी सुनिश्चित करने और मछली पालन से रोजगार के नये साधन विकसित करने के निर्देश भी दिये।मंत्री ने कहा कि मछली पालन से होने वाली आय कृषि आय से अधिक होती है। अत: मत्स्य पालन को बढ़ावा देकर रोजगार के अवसर पैदा किये जाये। विभाग समितियाँ बनाकर नई कार्ययोजना बनाये और अधिक से अधिक लोगों को इससे जोड़े।केज में मछली पालन से मत्स्य उत्पादन दोगुना होता है। प्रदेश में अभी मत्स्य उत्पादन 2 लाख टन है, जिसे बढ़ाकर 4 लाख टन करना है। इससे मत्स्य पालन के क्षेत्र में रोजगार के नये अवसर भी निर्मित होंगे। उन्होंने प्रदेश में झींगा पालन को भी बढ़ावा देने के निर्देश दिये।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here