सोशल मीडिया पर वायरल हुई लिस्ट, सिर्फ 60 हजार किसानों की होगी कर्जमाफी!

fake-list-of-farmers-viral-on-social-media

भोपाल। मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार ने सत्ता में आने के बाद किसानों के कर्ज माफी का ऐलान किया था। 22 फरवरी को किसान कर्ज माफी के पहले चरण में 13 जिलों के किसानों के कर्ज माफ किए जाएंगे। इनमें वह किसान शामिल किए गए हैं जिन्होंने 50 हजार से कम का कर्ज लिया है। हाल ही में सोशल मीडिया पर एक लिस्ट वायरल हो रही है। इस लिस्ट में 13 जिलों के 60 हजार से अधिक किसानों को चुनाव किया गया है। जबकि, पहले चरण में सरकार ने करीब 22 लाख किसानों का कर्ज माफ करने की बात कही थी। हालांकि, कांग्रेस ने इस लिस्ट को खारिज करते हुए इसे फेक करार दिया है। 

दरअसल, सोशल मीडिया पर एक लिस्य वायरल हो रही है। इस लिस्ट में 13 जिलों के किसानोंं को शामिल किया गया है। इनकी संख्या 60 हजार 693 किसानों का कर्ज माफी बताई गई है। कमलनाथ सरकार ने पहले चरण में प्रदेश के 22 लाख किसानों का कर्ज माफ करने का ऐलान किया था। यह लिस्ट किसने और कैसे वायरल हुई है इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है। कांग्रेस प्रवक्ता संगीता शर्मा ने एमपी ब्रेकिंग न्यूज को बताया कि यह लिस्ट सरकार की ओर से जारी नहीं की गई है। इसलिए यह लिस्ट फर्जी है। 

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश सरकार लोकसभा चुनाव से पहले 30 लाख से ज्यादा किसानों के खाते में जय किसान फसल ऋण मुक्ति योजना की रकम पहुंचाने की तैयारी में जुट गई है। जिलों में बैंकों द्वारा बताए कर्ज का किसान के रिकॉर्ड से मिलान कर अंतिम प्रकरण बनाने शुरू कर दिए गए हैं। 23 हजार किसानों की कर्जमाफी की रकम भी तय हो चुकी है। सूत्रों के मुताबिक सरकार की मंशा लोकसभा चुनाव की आचार संहिता लागू होने से पहले किसानों के खातों में योजना की रकम पहुंचाने की है। इसके लिए सबसे पहले सहकारी बैंकों के कर्जदार किसानों के खातों में राशि पहुंचाई जाएगी।

सोशल मीडिया पर वायरल हुई लिस्ट, सिर्फ 60 हजार किसानों की होगी कर्जमाफी!