नकली टीसी का वीडियो वायरल, हजारों के नोट उड़ाता नज़र आ रहा आरोपी

भोपाल,डेस्क रिपोर्ट। भोपाल स्टेशन के प्लेटफार्म पर पकड़े गए नकली टी सी के वीडियो सामनें आये है। जिसमें आरोपी पंजाबी गानों पर नोट उड़ाता नज़र आ रहा है। वायरल हो रहे इन वीडियो में नकली टी सी अभय पांडे हजारों रुपये के नोट उड़ा रहा है। जी आर पी के हत्थे चढ़ा अभय अपनी पत्नी और ससुराल वालों पर रौब जमाने के लिए नकली टी सी बनकर लोगो से अवैध कमाई करता था। फिलहाल वायरल वीडियो में अभय जिस तरह नोट उड़ाता नज़र आ रहा है, उससे साफ समझ आता है कि आरोपी ने नकली टी सी बनकर लाखों रुपये कमाए है। जी आर पी पूरे मामले की जांच कर रही है।

पहले इंस्टाग्राम पर दोस्ती, फिर रेप, युवती की शादी के बाद की यह हरकत, गिरफ्तार

दरअसल यह पूरा मामला कुछ ऐसा है कि भोपाल स्टेशन के नंबर एक पर सफेद ड्रेस में काली टाय लगाकर हाथ में वायरलेस सेट लेकर एक युवक संदिग्ध हालत में घूमता मिला। युवक ट्रेनों की आवाजाही के समय लोगों पर रौब झाड़ रहा था। इसने ड्रेस पर आरोपी स्टेशन मास्टर का फर्जी बैच व लोगो भी लगाया हुआ था। एसएएफ ने संदिग्ध हालात में घूमते युवक को शक के आधार पर पकड़ लिया। पूछताछ में वह पुलिस के सवालों का सही जवाब नहीं दे सका। जिसके बाद में उसे कार्रवाई के लिए जीआरपी भोपाल के हवाले कर दिया गया।

जबलपुर में कूलर चलाने पर रोक, आखिर क्या है कारण !

पूछताछ में सामने आया की युवक अजय पांडे मूलत: रीवा का निवासी है। फिलहाल वह परिवार के साथ स्टेशन बजरिया इलाके में रहता है। उसके पिता कपड़ा मिल में काम करते हैं। पूछताछ में आरोपी ने जीआरपी को बताया कि वह ससुराल वालों को स्टेशन मास्टर होने का झांसा देता था। रौब झाड़ने के लिए स्टेशन पर वर्दी पहनकर आया करता था। इस बार एसएएफ ने उसे दबोच लिया। जीआरपी का कहना है कि फिलहाल उसके द्वारा पूर्व में की गई किसी ठगी की जानकारी नहीं मिली है। आरोपी से पूछताछ की जा रही है। अब तक की पूछताछ में आरोपी ने स्वीकार किया कि वर्दी में वह रौब झाड़ने की नियत से ट्रेनों के आने जाने के दौरान लोगों से वसूली करता था। उसके संदिग्ध व्यवहार पर एसएएफ का एक कर्मचारी उसे पकड़कर डिप्टी कमांडेंट के पास लेकर पहुंचा। जहां जांच में पूरा खुलासा हुआ और अब आरोपी के मोबाइल से बने वीडियो भी सामनें आये है।