farmers-complaint-about-minister-in-guna

भोपाल। मध्य प्रदेश में भाजपा को हटा कर कांग्रेस को सत्ता में लाने वाली जनता अब अपने ही कामों के लिए परेशान हो रही है। प्रदेश के बमोरी विधानसभा के किसानोंं ने कमलनाथ सरकार के मंत्री पर गंभीर आरोप लगाए हैं। किसानों का आरोप है कि श्रम मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया के कारण उन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिल रहा है। किसानों का आरोप है कि इस क्षेत्र से सिंधिया को लोकसभा चुनाव में कम वोट मिले हैं। जिस वजह से मंत्री खफा हैं और स्थानीय लोगों को सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं लेने दे रहे हैं। 

दरअसल, सिंधिया के लोकसभा क्षेत्र में  बल्लापुर गांव आता है। यहां वह पहली बार अपनी पारंपरिक सीट से लोकसभा चुनाव में हारे हैं। चुनाव पूर्व मंत्रियों को उनके क्षेत्र के प्रत्याशियों को जीत की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। यहां से श्रम मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया विधायक हैं। उनके क्षेत्र के किसान अपनी जमीन के सीमांकन को लेकर दर दर भटक रहे हैं। किसानों ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि उनकी जमीन का सीमांकन जानबूझकर नहीं किया जा रहा है। जबकि वह सीमांकन की फीस पहले ही जमा कर चुके हैं। 

मंत्री ने पटवारी को लौटाया

किसानों का आरोप है कि सीमांकन के लिए गांव आए तहसीलदार और पटवारी को राजस्व अमले को मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया ने वापस लौटा दिया। जिस कारण अधिकारी बिना सीमांकन किए ही वापस लौट गए। अब किसानों को एक बार फिर दर दर भटकना पड़ रहा है। ग्रामीणों का आरोप है कि उनके साथ दोहरा व्यवहार किया जा रहा है। गांव वालों पर आरोप है कि उन्होंंने सिंधिया को वोट नहीं दिया इसलिए उनको योजनाओं का लाभ नहीं दिया जा रहा है। पहले ही किसान क़र्ज़ माफ़ी की योजना का लाभ अन्नदाता को नहीं मिल पाया है, ऐसे में किसानों को सरकारी योजनाओं से बंचित किया जा रहा है.