राजधानी के प्रतिष्ठित अग्रवाल ज्वैलर्स के ड्रायवर पर जानलेवा हमला, गोली मारने के बाद लूट

firing-on-famous-jeweler-driver-in-bhopal--

भोपाल। राजधानी के पुराने शहर के मुख्य मार्किट में चौक बाजार कोतलवाली थाना इलाके में शनिवार की रात तीन बदमाशों ने प्रतिष्ठित अग्रवाल ज्वैलर्स के ड्रायवर को तीन गोली मारने के बाद में दो बैग झपट लिया। हालांकि लूटे हुए बैग में महज खाने के तीन टिफन रखे थे। गंभीर रूप से घायल ड्रायवर को इलाज के लिए चिरायु अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है। वहीं घटना की सूचना के बाद में डीआईजी इरशाद वली, एसपी हेमंत चौहान, एएसपी मनु व्यास सहित पुलिस के तमाम आला अधिकारी पहुंच गए थे। वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों की तलाश में पुलिस घटना स्थल के आस पास लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगाल रही है। पुलिस ड्रायवर की पुरानी रंजिशों की जानकारी भी जुटा रही है। 

पुलिस के मुताबिक अब्दुल रहमान (32) बुधवारा में रहते हैं और श्यामला हिल्स निवासी जय मोहन अग्रवाल के यहां ड्राइवरी करते हैं। वे पिछले नौ साल से उनके यहां काम कर रहे हैं। जय मोहन की चौक बाजार में अग्रवाल ज्वैलर्स के नाम से दुकान है। शनिवार की रात करीब साढ़े बजे श्री अग्रवाल अपने ड्राइवर अब्दुल रहमान के साथ घर जाने के लिए दुकान से पैदल यूनानी शफाखाना के लिए रवाना हुए थे। शफाखाना के पास ही उनकी कार खड़ी होती है। जय मोहन अग्रवाल ने पुलिस को बताया कि रहमान दो बैग लेकर आगे चल रहा था। बैग में खाने के टिफिन थे। जब वे गाड़ी के पास पहुंचे तभी तीन युवक आए और रहमान से बैग छीनने लगे। उनके बीच झूमा-झटकी हुई। रहमान ने जब बैग नहीं छोड़े तो बदमाशों ने उस पर गोली चला दी। उन्होंने मौके पर तीन फ ायर किए। गोली रहमान के सीने और कमर में लगी है। वारदात को अंजाम देकर बदमाश पल्सर बाइक से फरार हो गए। 

– एक्टिवा पर गिरा रहमान

गोली लगने के बाद में रहमान दो से तीन कदम चला और पास खड़ी एक्टिवा पर गिर गया। जिसके बाद में मौके पर मौजूद दो युवकों ने से मोपेड से ही तुरंत ही चिरायु अस्पताल पहुंचाया और वहीं भर्ती कराया। वहीं डीआईजी इरशाद वली का कहना है कि बदमाश बैग लूटने में सफ ल नहीं हुए हैं। उन्होंने अब्दुल रहमान पर गोली चलाई हैं।

रैकी के बाद वारदात की आशंका

जिस प्रकार से घटनाक्रम को अंजाम दिया गया है, उससे लगता है कि बदमाश पिछले कई दिनों से ज्वैलर्स की रैकी कर रहे थे। आते-जाते समय हाथ में बैग होने पर उन्हें रकम और ज्वैलरी होने का अंदेशा रहा होगा। शनिवार को तीनोंं नकाबपोश बदमाश घटनास्थल पर पैदल ही थे, लेकिन बाद में वे वहां से भागकर कुछ दूर खड़ी बाइक पर बैठकर फरार हो गए। वहीं पुलिस का दावा है कि जल्द आरोपियों को दबोच लिया जाएगा। सीसीटीवी कैमरों में आरोपियों की तलाश की जा रही है। वहीं सूत्रों का कहना है कि ज्वैलर्स आम तौर पर एक बैग में कलेक्शन लेकर जाया करते थे।

पूर्व सीएम और मंत्री पहुंचे अस्पताल

इस घटना की जानकारी मिलते ही भोपाल लोकसभी प्रत्याशी और पूर्व मु यमंत्री दिग्विजय सिंह चिरायु अस्पताल पहुंचे। उन्होंने घायल के बारे में डॉक्टरों से जानकारी प्राप्त की। इसके बाद मंत्री आरिफ अकील ने भी अस्पताल पहुंचकर घायल ड्रायवर का हालचाल जाना।