पन्नी गोदाम में भीषण आग, डेढ़ दर्जन दमकलें, एक दर्जन पानी टेंकरों ने पाया काबू

Foil-fire-in-warehouse--One-and-a-half-dozen-fire-brigade-brooks-fire

भोपाल। पुराना कबाडख़ाना स्थित एक पन्नी के गोदाम में आज तड़के तीन बजे भीषण आग लग गई। आग की चपेट में आने से 22 सौ वर्गफिट का पूरा गोदाम जलकर खाक हो गया। जिससे लाखों रूपए के नुकसान का अनुमान लगाया जा रहा है। आग शार्ट सर्केट के कारण लगना बताया जा रही है। आग पर काबू पाने के लिए डेढ़ दर्जन दमकलों और एक दर्जन पानी के टैंकरों का सहारा फायर फाइटरों को लेना पड़ा। बताया जा रहा है कि आग इतनी भीषण थी की उसपर काबू पाने के लिए तीन घंटे की कड़ी मशक्कत दमकलकर्मीयों को करनी पड़ी। 

हनुमानगंज थाने के एसआई अयाज चांदा के अनुसार आज तड़के तीन बजे थाने के नंबर पर कॉल कर आग लगने की सूचना दी गई थी। सूचना के बाद में दमकलें और पुलिस मौके पर पहुंच गई थी। आग की चपेट में आया गोदाम इसरार भाई निवासी जहांगीराबाद का बताया जा रहा है। दमकलकर्मियों ने आग फेलने से रोकने के लिए चारों तरफ से पानी की बौछार की थी। आग एक बड़े हिस्से में लगने के कारण उसे बुझाने में भारी दिक्कतों का सामना फायर फाइटरों को करना पड़ रहा था। हालांकि तीन घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद में आग पर काबू पा लिया गया था। अग बुझाने तक गोदाम के मालिक मौके पर नहीं पहुंचे थे। जिससे आग में हुए नुकसान का खुलासा नहीं हो सका है। मौके से जली हुई केबल मिली हैं। जिससे अनुमान है कि आग शार्ट सर्केट के कारण लगी है। वहीं दमकलकर्मी शफी उद्दीन के अनुसार आग पर काबू पाने के लिए शहर के विभिन्न फायर स्टेशनों पर मौजूद दमकलों को बुला लिया गया था। आग तेजी से फेल रही थी। जिससे 22 सौ वर्गफिट में बना पन्नी गोदाम पूरी तरह से खाक हो चुका था। 

– रहवासियों की सजगता से आग बडऩे से बची

तड़के तीन बजे आग की लपटे देखने के बाद में आस पास में रहने वाले लोगों में अफरा-तफरी मच गई। पास के गोडाउनों को लोगों ने खाली करना शुरू कर दिया। तत्काल कबाडख़ाना फायर स्टेशन पहुंचकर आग की सूचना दी। सूचना के बाद में वहां से गाड़ी को रवाना किया गया। घटना के समय इस स्टेशन पर महज एक दमकल मौजूद थी। जिसके बाद में भीषण आग की सूचना अन्य स्टेशनों को दी गई। सूचना के बाद में फतेहगढ़ से चार,गांधी नगर से एक छोला से दो, बैरागढ़ से चार सहित अन्य स्टेशनों से डेढ़ दर्जन दमकलों को मौके पर बुला लिया गया था। 

– फैक्ट्री में लगी आग

इधर, गोविंदपुरा स्थित एक फैक्ट्री में भी देर रात भीषण आग लग गई। जिस पर काबू पाने के लिए आधा दर्जन से अधिक दमकलों को दो घंटे से ज्यादा का समय लगा। दोनों ही मामलों में किसी प्रकार की जानहानी नहीं हुई है।