पूर्व IG जेल की पत्नी और साली को नौकरों ने घर में बंधक बनाया, पुलिस ने कराया मुक्त

भोपाल। राजधानी भोपाल के शाहजहानाबाद इलाके में रिटायर्ड आईजी जेल स्वर्गीय रशीद खान की वृद्ध पत्नी और उनकी बहन को नौकर-नौकरानी ने दो महीने तक उन्ही के घर में बंधक बनाकर रखा। आरोपी दोनों महिलाओं के प्रताडि़त करते थे। चार घंटे के रेस्क्यू आपरेशन के बाद पुलिस ने दोनों महिलाओं को मुक्त कराकर आरोपियों को गिरफ्तार किया है। नौकर-नौकरानी ने पुलिस को बताया कि ऐसा वह वृद्धा के सौतेले बेटे के कहने पर कर रहे थे। जो फिलहाल अमेरिका में है।

एसआई राघवेंद्र सिंह सिकरवार के अनुसार रफ़ी उज जफ र (65) राजू टी स्टॉल के सामने फेहतगढ़ में रहते हैं और सरकारी नौकरी से रिटायर्ड हैं। उन्होंने पुलिस को आवेदन देते हुए बताया कि उनकी बहन 80 वर्षीय रजिया सुल्तान रिटायर्ड शिक्षिका है। जबकि उनके पति रशीद खान आईजी जेल रहे हैं, वर्ष 1985 में भोपाल से रिटायर्ड हुए थे। रजिया अपनी बहन राना सुल्तान के साथ जिंगल बेल स्कूल के सामने ईदगाह पर रहती है। उनके घर काम करने वाले नौकर लईक और नौकरानी रूकमनी ने दोनों बहनों को दो महीने से बंधक बनाकर रखे हुए हैं। आरोपी उनको अपनी बहनों से मिलने तक नहीं देते हंै। आवेदन मिलते ही पुलिस की टीम घर पहुंची तो पहले नौकर को फ ोन लगाया, लेकिन उसने खुदको एयपोर्ट पर होने की जानकारी दी और मिलने से इंकार कर दिया। बाद में उसने फोन को बंद कर लिया। एसआई ने बताया कि आरोपी ने जब पुलिस टीम घर पहुंची तो घर का मेन गेट बाहर से लॉक था। जिसके बाद में पड़ोसियों की मदद से उन्होंने रजिया के मकान के साइड वाले मकान की छत पर एंट्री की। इसके बाद में एक बाइक के रासते घर के आंगन में उतरे और तालों को तोड़कर घर में एंट्री की। वहां वृद्ध रजिया सुल्तान बदहवास थीं। जबकि उनकी बहन भी सहमी हुई साथ में बैठी थीं।

– बेटे के कहने पर करते थे प्रताडि़त

दोनों महिलाओं को पुलिस टीम थाने लेकर पहुंची और उनके भाई की शिकायत पर प्रकरण दर्ज किया। दोनों महिलाओं को उनके भाई की कस्टडी में सौंप दिया गया है। पुलिस महिला के अमेरिका में रहने वले बेटे को भी आरोपी बनाने की तैयारी में है। रजिया का मकान हड़पने के लिए उसने नौकरों को अपनी मां को प्रताडि़त करने की बात अमेरिका जाने से पर्वू कही थी। ऐसा नौकरों ने पुलिस हिरासत में दिए बयानों में बताया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here