अतिथि विद्वानों के समर्थन में उतरे नरोत्तम मिश्रा, बोले-विधानसभा में उठाएंगे मुद्दा

भोपाल। 

कमलनाथ सरकार के खिलाफ सड़कों पर मोर्चा खोले हुए अतिथि विद्वानों को लेकर पूर्व मंत्री और भाजपा विधायक नरोत्तम मिश्रा ने बड़ा बयान दिया है। मिश्रा ने इस संघर्ष में उनके साथ खड़े होने की और उनकी मांगों को विधानसभा में उठाने की बात कही है।

दरअसल, सत्ता में आने से पहले कमलनाथ सरकार ने अतिथि विद्वानों से नियमित करने का वादा किया था, लेकिन एक साल पूरा हो जाने के बाद भी ये वादा पूरा नही कर पाई है।इसी के चलते बीते कई हफ्तों से अतिथि विद्वान नियमितीकरण समेत अपनी मांगों को लेकर राजधानी भोपाल के शाहजहांनी पार्क में डेरा डाले हुए है। रविवार को उन्होंने अपने खून से ज्ञापन लिखा और हस्ताक्षर किए। ज्ञापन में लिखा है- वचनपत्र गीता और कुरान है, तो क्यों परेशान है। अतिथि विद्वान?

इस विरोध प्रदर्शन के बीच आज मिश्रा अतिथि विद्वानों से मिलने पार्क पहुंचे थे। जहां उन्होने कहा कि अतिथि विद्वानों का मुद्दा हम विधानसभा में उठाएंगे ।हम सब अतिथि विद्वानों के साथ खड़े है। वही सरकार पर हमले बोलते हुए कहा कि कांग्रेस ने वचन पत्र में नियमित करने का किया था वादा, लेकिन पूरा नही किया । कांग्रेस हमेशा वादाखिलाफी करती है।आज तक एक भी वादा पूरा नहीं किया है।