सरकार के विनियोग बजट पर बोले पूर्व मंत्री- छोटे दुकानदारों के लिए कुछ नहीं

भोपाल।

प्रदेश सरकार (State Government) द्वारा कोरोना (Corona) काल मे आर्थिक जरूरतों को पूरा करने विनियोग बजट (Investment Budget) लाया गया है। सरकार द्वारा लाग गया यह बजट 2 लाख 5 हज़ार 397 करोड़ रुपए का है, इस बार बजट में पिछली बार के मुकाबले 28208 करोड़ का कम प्रावधान किया गया है। मध्यप्रदेश में सरकार बदलने के चलते समय पर बजट नहीं आ पाया था, लॉकडाउन के चलते सरकार द्वारा खर्चों के लिए लेखानुदान (Vote On Account) पारित किया था। जुलाई में विधानसभा (Vidhansabha) का सत्र होना था लेकिन कोरोना के चलते इसे स्थगित करना पड़ा। जिसके बाद अब अध्यादेश के जरिए बजट लाया गया है।

वहीं कल प्रदेश सरकार द्वारा लाए विनियोग बजट को लेकर पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने सवाल उठाए है। उन्होंने कहा, कोरोना लगातार बढ़ता रहा पर प्रदेशबसरकार बजट लेकर नहीं आ पाई। उन्होंने कहा 28 हज़ार करोड़ रुपए का यह बजट पिछली बार की तुलना में कम है। उन्होंने कहा स्वास्थ्य सेवाओं में बजट 50 करोड़ कम है। कोरोना काल मे अस्पताल बढ़ाने है कोरोना की टेस्टिंग बढ़ानी है इसके लिए स्वास्थ्य का बजट सरकार को बढ़ाना था।

वहीं उन्होंने कहा समाज कल्याण विभाग का 500 से 600 करोड़ रुपए का बजट भी कम कर दिया है। उन्होंने कहा इस बजट में गरीबों के लिए कुछ भी नहीं है। छोटे दुकानदार गुमठी और ठेले वालो को क्या सहायता दी जाएगी सरकार ने वह नहीं बताया। पूर्व मंत्री ने कहा, मुख्यमंत्री ने छोटे दुकानदार, गुमठी और ठेले लगाने वाले तबके के लोगों को 10 हज़ार रुपए के लोन देने की बात कही थी जो अभी तक किसी को नहीं मिला है। उन्होंने कहा यह बड़ी दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति है इस बजट की।