पूर्व मंत्री का बंगला खाली करवाने पहुंचे अधिकारी, 2 बार हो चुका है नोटिस जारी

भोपाल।
सत्ता में आते ही प्रदेश की शिवराज सरकार (shivraj sarkar) एक्शन मोड में आ गई है और पूर्व मंत्रियों(former minister) के बंगले को खाली करवाना शुरु कर दिया है।आज दोपहर में पूर्व मंत्री तरुण भनोट(tarun bhanout) का बंगला खाली कराने के लिए संपदा के कर्मचारी पहुंचे ।इस दौरान तहसीलदार और पीडब्ल्यूडी के कर्मचारी भी मौजूद रहे।बताया जा रहा हैकि भनोट को दो बार नोटिस जारी किया जा चुका था, बावजूद इसके उन्होंने बंगला खाली नही किया , इसके बाद कर्मचारियों को भेजकर खाली करवाने की तैयारी की गई है।

दरअसल, राज्य सरकार ने कांग्रेस के पूर्व मंत्रियों को बंगला खाली करने का नोटिस थमाया है, बेदखली नोटिस में बंगला खाली करने की अवधि सात दिन तय कर की गई है।वही नोटिस में यह भी लिखा है कि तय समय पर बंगला खाली नहीं किया तो जबरन बंगले खाली करवाए जा सकते हैं। इसमें उन मंत्रियों का नाम शामिल नहीं है जो भाजपा में शामिल हो गए हैं। वही भनोट का बंगला बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा को अलॉट किया गया है। इसके पहले भी तरुण भनोट को दो बार नोटिस जारी हो चुके हैं, बावजूद इसके उन्होंने बंगला खाली नही किया, जिसके बाद आज बुधवार को कर्मचारी चार इमली स्थित बी-16 बंगले को खाली करने करवाने पहुंचे।

इधर दल के पहुंचते ही तरुण भनोट ने मुख्यमंत्री शिवराज को पत्र लिखकर बताया है कि मैं कोरोना के चलते जबलपुर में हूं इसलिए खाली नहीं कर पाया हूं, साथ ही विधानसभा का सदस्य हूं और मुझे भोपाल में कोई भी बंगला अलर्ट नहीं हुआ है ऐसे में मैं अपना सामान कहां रखूगा।