क्यूआर कोड स्कैन के नाम पर जालसाज़ ने ठगे एक लाख, वही बुजुर्ग को भी केवाईसी के नाम पर लगाई चपत

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। लोगों की जरा सी लापरवाही भारी पड़ सकती है और एक ही झटकें में एकाउंट से पैसा निकल सकता है। भोपाल के शाहपुरा थाना क्षेत्र में रहने वाले एक व्यक्ति को जालसाज ने कुछ इसी तरह अपना शिकार बना लिया। जालसाज ने फर्नीचर खरीदने के नाम पर करीब एक लाख रुपए की चपत लगा दी। वही एक और मामलें में अयोध्या नगर में रहने वाले एक सेवानिवृत्त व्यक्ति के खाते से एक लाख केवायसी अपडेट करने के नाम पर ठग ने 40 हजार रुपए निकाल लिए। पुलिस ने दोनों मामलों में धोखाधड़ी का प्ररकण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

MP OBC Reservation: 27% आरक्षण मामले में जुड़ा एक और विवाद, HC में याचिका दायर

पहले मामलें में पुलिस के अनुसार शुभादीप फर्नीचर कारोबारी है और आकृति ईको सिटी शाहपुरा में रहते हैं। वह ऑनलाइन भी अपने फर्नीचर को बेचने का व्यवसाय करते है। 13 सितंबर को उन्होनें अपने फर्नीचर का विज्ञापन ओएलएक्स पर अपलोड किया था। एक व्यक्ति ने उन्हें फोन कर कहा कि उसने विज्ञापन देखा है और वह फर्नीचर खरीदना चाहता है। फरियादी ने भी फर्नीचर बेचने का सौदा कर लिया। इसके बाद जालसाज ने कहा कि मैं आपके मोबाइल पर एक लिंक भेज रहा हूं, उसका क्यूआर कोड स्कैन कर देना तो आपके बैंक खाते में फर्नीचर की पूरी राशि पहुंच जाएगी। इसके बाद आप मेरे बताए पते पर फर्नीचर की डिलीवरी करा देना। 23 सितंबर को फरियादी ने सहमति दी और मोबाइल पर आए क्यूआर कोड को स्कैन कर दिया। क्यूआर कोड स्कैन करते ही शुभादीप के खाते से तीन बार में 30-30 हजार रुपए और एक बार पांच हजार रुपए कट गए। इस तरह फरियादी के खाते से 95 हजार रुपए जालसाज ने निकाल लिए। पुलिस ने धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज कर लिया है।

MP By-Election: पृथ्वीपुर विधानसभा सीट से कांग्रेस ने की प्रत्याशी की घोषणा, इस चेहरे पर लगाया दांव

वही एक दूसरे मामलें में एक बुजुर्ग को भी जालसाजों ने 40 हजार का चूना लगा दिया। पुलिस के अनुसार बसंत स्वरूप सक्सेना अयोध्या नगर में परिवार सहित रहते हैं। वे रिटायर्ड अधिकारी हैं। उनका सोनागिरी स्थित बैंक ऑफ इंडिया में पेंशन खाता है। KYC अपडेट के नाम पर उन्हें एक ने फ़ोन कर डराया की, अगर केवायसी अपडेट नहीं कराते हैं तो खाता बंद हो जाएगा। इसके बाद आप पेंशन के रूपये नहीं निकाल सकेंगे।

Lucknow : बड़ा इमामबाड़ा में सिर ढंके बिना महिलाओं को प्रवेश नहीं, मिनी स्कर्ट पर भी बैन

फरियादी ने वृद्ध होने का हवाला देकर आसान उपाय पूछा तो जालसाज ने कहा कि वरिष्ठ नागरिकों को बैंक ऑनलाइन केवायसी अपडेट कराने की सुविधा देता है। मैं आपसे कुछ जानकारी लूँगा, आप  जानकारी देंगे  तो आपका केवायसी अपडेट हो जाएगा। जालसाज ने बातों में उलझाकर फरियादी ने उनका एटीएम नंबर पूछा, इसके बाद उनमें मोबाइल पर आया ओटीपी भी पूछ लिया। फरियादी ने जैसे ही ओटीपी बताया उनके खाते से दो बार 20-20 हजार रुपए कट गए। पुलिस धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज कर जांच कर रही है।