Bhopal : 2 साल बाद धूमधाम से मनेगी अनंत चतुर्दशी, 6 घाटों और 15 कुंड पर किया जा सकेगा विसर्जन

भोपाल (Bhopal) में इस साल धूमधाम से गणेश उत्सव (Ganeshotsav) का त्यौहार मनाया गया। गली-चौराहों के साथ घरों में भी गणेश जी की मूर्तियां स्थापित की गई। वहीं अब बप्पा को अलविदा कहने का दिन पास आ गया है।

indore, anant chaturdarshi

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। गणेश उत्सव (Ganeshotsav) का त्यौहार चल रहा है और ऐसे में अनंत चतुर्दशी आने वाली है। अब बाप्पा को अलविदा कहने का वक्त करीब आ गया है। ऐसे में राजधानी भोपाल (Bhopal) में इस साल धूमधाम से गणेश उत्सव का त्यौहार मनाया गया। गली-चौराहों के साथ घरों में भी गणेश जी की मूर्तियां स्थापित की गई। वहीं अब बप्पा को अलविदा कहने का दिन पास आ गया है। दरअसल, अनंत चतुर्दशी के दिन बप्पा का विसर्जन किया जाएगा। इतना ही नहीं प्रदेश में अनंत चतुर्दशी के दिन जगह-जगह पर विसर्जन जुलूस भी निकाले जाएंगे। साथ ही भोपाल में 6 घाटों का चयन निगम प्रशासन द्वारा किया गया है।

इन घाटों पर किया जा सकेगा विसर्जन –

बताया जा रहा है कि निगम द्वारा खटलापुरा, प्रेमपुरा, संत हिरदाराम नगर बैरागढ़, हथाईखेड़ा डेम, शाहपुरा एवं आर्च ब्रिज के घाट को चुना गया है। इसकी साफ-सफाई भी होना शुरू कर दी गई है। इन सबके अलावा भोपाल शहर में 15 अस्थाई कुंड भी बनाए जा रहे हैं इस कुंड में बप्पा का विसर्जन किया जा सकेगा। यह सब बप्पा का विसर्जन करने वाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए किया जा रहा है। बता दे, बप्पा का विसर्जन करने के लिए शहर के अलग-अलग क्षेत्रों में विसर्जन कुंड की व्यवस्था की जा रही है। ऐसे में लोग वहीं पर जाकर बप्पा का विसर्जन कर सकेंगे।

Must Read : Raju Srivastav को अब तक नहीं आया होश, पत्नी ने कहा- मैं सिर्फ इतना

ऐसे में अगर कुछ लोग घाट पर जाने की इच्छा रखते हैं तो जिन घाटों का निगम द्वारा चयन किया गया है उन घाटों पर जाकर बप्पा का विसर्जन किया जा सकता है। यह भी जानकारी सामने आई है कि विसर्जन वाले दिन कोई हादसा ना हो इसलिए सभी घाटों पर नगर निगम के कर्मचारी लाइफ जैकेट, ट्यूब आदि संसाधनों के साथ मौजूद रहेंगे। हालांकि लोगों को पानी में उतरने नहीं दिया जाएगा। ऐसे में लोग घाटों पर बने स्टॉल पर गणेश जी को रख सकते हैं। उसके बाद गणेश जी का सामूहिक रूप से विसर्जन किया जाएगा।