पुलिस के हत्थे चढ़ा ट्रेवल के नाम पर ठगी करने वाला गिरोह, एक करोड़ की गाड़ियां बरामद

Avatar
Published on -
BHOPAL NEWS : भोपाल की मिसरोद पुलिस को  बड़ी सफलता मिली है, पुलिस ने ट्रैवल के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह को पकड़ा है, गिरोह के सदस्य इनोवेटिव सेल्फ ड्राईव रेंटल कार्स एण्ड ट्रेवल के नाम पर कम्पनी बनाकर चार पहिया वाहन किराये पर लेते थे और फिर गाड़ी गायब कर देते थे, पुलिस ने गिरोह से करीबन एक करोड़ कीमत की गाड़ियां जब्त की है।  तीन दोस्तो ने मिल कर यह गैंग बनाई थी
 लोगो को गुमराह करने के लिये कूटरचित दस्तावेज तैयार किए थे और अलग – अगल शहरो मे ठगी कर लाये कुछ वाहनो को यह बेचते थे और कुछ को गिरवी रखते थे। पुलिस को पूछताछ में पता चल है कि भोपाल के साथ – साथ ग्वालियर, विदिशा, नरसिंहगढ़ , अशोकनगर सहित अन्य जिलो मे भी यह धोखाधड़ी करते थे। पुलिस ने  मोनिस नायर पिता भगवान सिंह नायर निवासी रुचि लाईफ स्केप भोपाल को गिरफ्तार किया है वही दूसरा आरोपी  आशीष उर्फ आसू निवासी पंचशील नगर भोपाल और नितिन सोनी निवासी अशोका गार्डेन भोपाल फरार हो गया है, जिसकी तलाश की जा रही है।
ऐसे हुआ खुलासा
भोपाल के थाना मिसरोद मे 5 सितंबर को एक  फरियादी ने आवेदन दिया था कि मैने अपनी तीन चार पहिया वाहन किराये पर मोनिस नायर को किराये से दिये थे जो तीनो वाहनो को वापस नही कर है और ना ही मेरे वाहनो का किराया दे रहा है, पुलिस ने आवेदन पत्र पर से आरोपी के विरुध्द अपराध  कायम कर मामला विवेचना मे लिया। जांच के दौरान वरिष्ठ अधिकारियो से स्पष्ट  निर्देश प्राप्त हुए की प्रकरण मे अविलंब स्पेशल टीम गठित कर आगे की कार्रवाई करे जो वरिष्ठ अधिकारियो से प्राप्त दिशानिर्देश के पालन मे थाना पर तीन अलग – अलग टीम गठित की गई जिनमे एक टीम द्वारा तकनीकी  साक्ष्य एकत्रित करने दूसरी टीम द्वारा शहर से बाहर जाकर वाहन बरामदगी करने  एवं  तीसरी टीम द्वारा लगातार विवेचना  की गई जांच के दौरान आरोपी मोनिस नायर को गिरफ्तार किया जिसने बताया कि उसने अपने अन्य दो साथी  आशीष उर्फ आसू एवं नितिन सोनी के साथ मिलकर एक आशिमा माँल मे इनोवेटिव सेल्फ ड्राईव रेंटल कार्स एण्ड ट्रेवल के नाम से कम्पनी बनाकर गैंग तैयार की जो उनके द्वारा भोले भाले लोगो को झूठे प्रलोभन देकर उनके चार पहिया वाहन किराये के नाम पर लेकर अनुबंध तैयार कर लोगो को अपने भरोसे मे लेकर बाद कूटरचित दस्तावेज तैयार कर धोखाधड़ी से किराये के नाम पर लिये वाहनो को अलग – अलग शहरो मे जाकर वाहनो को बेच देते थे और कुछ वाहनो को गिरवी रख देते थे । आरोपी कि निशादेही पर 10 चार पहिया वाहन जप्त किये है  एवं अन्य फरार आरोपियो की तलाश पतारसी की जा रही है । आरोपियो के विरुध्द प्रकरण मे धारा 467,468,471 भादवि का इजाफा किया गया विवेचना जारी है ।
जप्त मशरूका – कुल 10 चार पहिया वाहन कीमती करीबन 10000000 रुपये ।
01. आर्टिका कार – MP 50 C 9005
02. आर्टिका कार – MP 09 WM 7848
03. आर्टिका कार – MP 04 ED 2938
04. आर्टिका कार – MP 48 C 6378
05.  टाटा जेस्ट कार – MP 04 CT 3270
06. मारुती वलेनो कार – MP 09 ZM 9124
07. स्विप्ट कार – UP 93 BX 3253
08. टाटा अल्ट्रोज – MP 09 ZF 1261
09. सियाज कार – MP 04 CQ 2357
10. अल्टो कार – MP 04 TB 4594
वारदात का तरीका –  आरोपियो द्वारा इनोवेटिव सेल्फ ड्राईव रेंटल कार्स एण्ड ट्रेवल के नाम पर कम्पनी बनाकर सोशल मीडिया के माध्यम से देते थे विज्ञापन और चार पहिया वाहनो को किराये के नाम से लेकर अनुबंध कर फर्जी दस्तावेज तैयार कर चार पहिया वाहन बेच देते थे और गिरवी रखते थे ।

About Author
Avatar

Sushma Bhardwaj