दोस्त के साथ मिलकर पति ने पत्नी से किया गैंगरेप, अश्लील वीडियो भी बनाया

gangrape-with-women-in-bhopal

भोपाल। 

राजधानी के अशोका गार्डन स्थित होटल सिलवर इन में ग्वालियर की महिला के साथ गैंग रेप का मामला सामने आयसा है। वारदात को पीडि़ता के पति व उसके दोस्त ने अंजाम दिया है। आरोपियों ने फरियादिया के साथ ज्यादती की वीडियो भी बनाई है। दोनों आरोपियों घटना की जानकारी किसी को भी देने पर जान से मारने की धमकी भी दी थी। विवाहिता ने मामले की एफआईआर ग्वालियर के एक थाने में दर्ज कराई थी। वहां से असल कायमी के लिए केस डायरी को बीती रात भोपाल की अशोका गार्डन पुलिस को सौंप दिया गया है। 

पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। 

टीआई उमेश यादव के अनुसार 36 वर्षीय पीडि़ता ग्वालियर की रहने वाली है और गृहणी है। उसका पति रुपेंद्र बंसल श्योपुर का निवासी है, फिलहाल रु चित लाइफ इनक्लेव होशंगाबाद में रह रहा है। वह यहीं प्रायवेट नौकरी कर रहा है। वर्ष 2018 में रुपेंद्र की शादी पीडि़ता से उसके दोस्त गिरिराज सिंघल ने कराई थी। गिरिराज भी ग्वालियर का रहने वाला है। शादी के दो-तीन महीने बाद ही पति-पत्नी विवाद के चलते अलग-अलग रहने लगे थे। तब गिरिराज ने पीडि़ता के पिता से कहा की वह रुपेंद्र और उनकी बेटी का राजीनामा करा देगा। 

राजीनामा का झांसा देकर गिरिराज फरियादिया को ट्रेन से 18 अगस्त 2018 को भोपाल आया। यहां होटल सिलवर इन में वह दोनों एक ही रूम में ठहरे। रुपेंद्र भी यहां मिलने के लिए आ गया। कुछ देर तीनों ने आपस में बातचीत की, इसके बाद में महिला के पति ने कहा कि उसे पत्नी से कुछ पर्सनल बातें करना है। तब गिरिराज रूम से बाहर जाने का बोलकर कमरे के वाशरूम में छिप गया। इस दौरान उसने दंपति के आपत्तिजनक पलों को मोबाइल में कैद किया।

– जबरन कराया अप्रकृतिक संभोग

पीडि़ता ने पुलिस को बताया कि आरोपी पति ने उससे कमरे में जान से मारने की धमकी देकर अप्रकृतिक संभोग कराया। जिसे गिरिराज ने मोबाइल में कैद कर दिया। कुछ देर बाद में आरोपी अचाकन वाशरूम से निकल आया। इसके बाद में उसने पति के सामने ही डरा धमकाकर बलात्कार किया। बाद में दोनों ने हत्या की धमकी देकर महिला को चुप रहने के लिए कह दिया। होटल में चेकइन के चार घंटे बाद ही महिला वहां से चेक आउट कर दिया। वह अपने मायके में जाकर रहने लगी। जहां गिरिराज उसे वीडियो वायरल करने की धमकी देकर आय दिन ब्लैकमेल कर ज्यादती करने लगा। जिससे तंग आकर उसने आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज करा दिया।