कॉलेज छात्राओं को सौगात, बनेंगे निशुल्क ड्राइविंग लाइसेंस

भोपाल| देश की पहली महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की जयंती पर सरकार कॉलेज छात्राओं को बड़ी सौगात देने जा रही है|  प्रदेश के सभी जिलों में कॉलेजों में छात्राओं के नि:शुल्क लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस बनाए जाएंगे। आरटीओ के अधिकारी-कर्मचारियों की टीम भोपाल सहित संबंधित जिले के किसी एक सरकारी कॉलेज में इसके लिए शिविर लगाएंगे। यदि जिले में सरकारी कॉलेज नहीं है, तो शासकीय कन्या हायर सेकंडरी स्कूल में शिविर लगाया जाएगा। 

 विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस ने अपने वचन-पत्र में महिला सशक्तीकरण की बात कही थी, साथ ही छात्राओं को मुफ्त ड्राइविंग लाइसेंस देने का वादा किया था। इंदिरा गांधी की जयंती से कांग्रेस अपने वादे को पूरा करने जा रही है। कॉलेजों में छात्राओं के नि:शुल्क लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस बनाए जाएंगे। पहले आवेदन भरवाने के साथ व 10वीं की मार्कशीट, वोटर आईडी, आधार कार्ड, एक फोटो सहित अन्य जरूरी कागजातों की जांच की जाएगी। इसके बाद टेबलेट पर टेस्ट कराया जाएगा। टेस्ट में पास होने पर मौके पर ही फोटो खींच कर लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस जारी किए जाएंगे|

प्रदेश में चयनित कन्या महाविद्यालयों में शिविर आयोजित कर छात्राओं को मुफ्त ड्राइविंग लाइसेंस वितरित किए जाएंगे। परिवहन एवं राजस्व मंत्री राजपूत ने कहा, ‘वर्षभर में निश्चित अंतराल से सभी कन्या महाविद्यालयों में निशुल्क ड्राइविंग लाइसेंस वितरण शिविर आयोजित किए जाएंगे। अगले चरण में प्रदेश के सभी तहसील मुख्यालयों पर जिले के प्रभारी मंत्री की उपस्थिति में निश्चित अंतराल पर पूरे वर्ष शिविर लगाए जाएंगे।’