एमपी के नव युवकों के लिए खुशखबरी, पुलिस में होगी बंपर भर्ती

भोपाल। मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने मध्य प्रदेश के युवाओं को बड़ी सौगात दी है। पुलिस मुख्यालय में समीक्षा बैठक के दौरान शुक्रवार को नरोत्तम मिश्रा ने 4269 आरक्षको की भर्ती प्रक्रिया प्रारंभ करने के निर्देश दिए। मिश्रा ने समीक्षा के दौरान गृह मंत्रालय से तत्काल फाइल बुलाकर इस पर हस्ताक्षर किए। जल्द ही यह प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। मध्य प्रदेश में 3 साल बाद यह मौका आ रहा है जब आरक्षण की भर्ती का रास्ता खुला है। इस अवसर पर नरोत्तम मिश्रा ने पुलिसकर्मियों के बेहतर जीवन और उनके परिजनों की देखभाल को लेकर भी अधिकारियों से चर्चा की।

गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा शुक्रवार को प्रदेश की कानून व्यवस्था की समीक्षा बैठक करने पुलिस मुख्यालय पहुंचे। यहां उन्होंने पुलिस के आला अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक से पहले गृह मंत्री को गॉर्ड ऑफ ऑनर दिया गया। बैठक में कई महत्वपूर्ण विषयों पर निर्णय लिया गया। इस दौरान बैठक में पुलिस की कमी की समस्या को समाप्त करने के लिए 4269 अरक्षकों की भर्ती पर सहमति बनी। गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने समीक्षा के दौरान गृह मंत्रालय से तत्काल फाइल बुलाकर हस्ताक्षर किये। बैठक के बाद मीडिया से बात करते हुए गृहमंत्री ने बताया कि आज पीएचक्यू के एडीजी स्तर के अधिकारियों के साथ कई विभागों की समीक्षा की। जिसमें उन्हें आने वाली दिक्कत और उनके किए गए कार्य दोनों के बारे में विस्तार से बात हुई। गृहमंत्री ने बताया कि बैठक में ही पुलिस फोर्स भर्ती में 4269 आरक्षकों की भर्ती के लिए सहमति बनी। उस प्रक्रिया को प्रारंभ करने का तय किया और कुछ कार्यों के लिए केन्द्र की सहमति की जरुरत होती है, उसके लिए केन्द्र को प्रस्ताव बनाकर भेजा जाएगा।

इसके अलावा बैठक में पुलिस हॉस्पिटल का प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश गृहमंत्री ने दिए। पीपीपी मोड़ में सर्वसुविधायुक्त अस्पताल बनाने का प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए गए। जिसमें आरक्षक से लेकर गृह मंत्री और पुलिस महानिदेशक उपचार करा सकेंगे।