कोरोना को लेकर मध्यप्रदेश से सुखद खबर, स्वास्थ्य मंत्री ने बताए आंकड़े

2466

गृह, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना को हराकर घर लौटने वालों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है। उन्होने कहा कि कोरोना को लेकर पॉजिटिव केस सामने आ रहे हैं लेकिन रिकवरी रेट भी उतनी तेजी से बढ़ रहा है।  लोगों को सलाह देते हुए उन्होने कहा कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना है, मास्क लगाना है और आवश्यक सावधानियां बरतनी है। किसी को भी अज्ञात आशंकाओं से घबराने की जरूरत नहीं है।

वहीं श्रमिकों ट्रेन को लेकर उन्होने जानकारी दी कि मजदूरों को लाने के लिए 130 ट्रेनें चलाई जा चुकी है इनमें से 129 ट्रेनें आ चुकी है और एक ट्रेन बुधवार को आएगी। उन्होने कहा कि मध्यप्रदेश एकमात्र राज्य है जहां से गुजरने वाले श्रमिकों को पूरा सम्मान मिला है। समाजसेवियों और सरकार ने उनके भोजन स्वल्पाहार और आवागमन की पर्याप्त व्यवस्था की। गृहमंत्री ने कहा कि सभी को रोजगार देने के श्रम सिद्धि अभियान में 2364964 लोगों को काम उपलब्ध कराया जा रहा है। एक हजार करोड़ से अधिक रूपए का भुगतान किया जा चुका है। मुख्यमंत्री चौहान 31 मई के बाद कभी भी कहीं भी मजदूरों के बीच में जा सकते हैं। अब तक 545000 श्रमिक प्रदेश में आ चुके हैं और लगभग 30,000 श्रमिकों को अन्य प्रदेशों में और भेजा जाएगा।

पत्रकारों से बात करते हुए नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि इसी के साथ उन्होने कहा कि मंगलवार को हुई कैबिनेट में आत्मनिर्भर भारत अभियान के पैकेज 3 और 4 पर चर्चा की गई है। देश में गेहूं उपार्जन की कुल मात्रा में से एक तिहाई उपार्जन सिर्फ मध्यप्रदेश में हुआ। एक करोड़ 16 लाख मीट्रिक टन गेहूं का उपार्जन किया जा चुका है। उन्होने कहा कि सभी किसानों का गेहूं उपार्जित किया जाएगा किसी को भी घबराने की जरूरत नहीं है। वहीं प्रधानमंत्री सम्मान निधि के किसानों को केसीसी से जोड़ने की बात भी उन्होने कही है। सभी को 0% ब्याज पर ऋण उपलब्ध करवाया जाएगा और सोलह लाख किसानो का 85 करोड़ का ब्याज सरकार भरेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here