निजी स्कूलों की तर्ज पर प्रदेश की आंगनबाड़ियों को ‘स्मार्ट’ बनाएगी सरकार, मिलेगी ये सुविधाएं

Government-will-make-'smart'-anganwadis-on-the-lines-of-private-schools

भोपाल। 

निजी स्कूलों की तर्ज पर अब मध्यप्रदेश में स्मार्ट आंगनबाड़ी बनाने का काम महिला बाल विकास विभाग करने वाला है। बेहतर शिक्षा के लिए और बढ़ते कुपोषण पर लगाम लगाने के लिए प्रदेश सराकर इस नई योजना को लाने की तैयारी में है। जिले में एक या दो आदर्श आंगनबाड़ियों को स्मार्ट बनाया जाएगा, जिसमें बिजली से लेकर अन्य सुविधाएं होंगी। आदर्श आंगनबाड़ियों में एसी और कूलर जैसी सुविधाएं दी जाएंगी। सरकार द्वारा जल्द ही इस योजना को धरातल पर शुरू करने का दावा किया जा रहा है। 

जानकारी के अनुसार विभाग द्वारा फिलहाल जिले में एक आदर्श आंगनबाड़ी केन्द्र बनाए जाने की योजना बनाई गई है। महिला एवं विकास विभाग द्वारा इस योजना को क्रियान्वित करने के लिए शिक्षा विभाग से भी मदद ली जा रही है। बच्चों का शारीरिक, भाषायी, संज्ञानात्मक, सौंदर्य बोध और सामाजिक विकास करने के संकल्प को लेकर यह योजना सरकार द्वारा बनाई जा रही है। प्रदेश में प्ले स्कूल की तर्ज पर स्मार्ट बनाई जाने वाली आंगनबाड़ियों की संख्या लगभग 97 हजार है।  

ये मिलेंगी सुविधाएं

आपको बता दें कि स्मार्ट बनाई जाने वाली इन आंगनबाड़ियों को 3 से 6 वर्ष तक के बच्चों के लिए तैयार की जा रही है। इसकी सतत मॉनिटरिंग होगी। इन आंगनबाड़ियों में बच्चो की शिक्षा एवं स्वास्थ का विशेष ध्यान दिया जाएगा। यहां स्कूल की तरह बच्चों को पढ़ाया जाएगा जिसके लिए विशेष सिलेबस तैयार किया जा रहा है। आंगनबाड़ी में बच्चों के शारीरिक, भाषायी, संज्ञानात्मक, सौंदर्य बोध और सामाजिक विकास पर होगा फोकस। इंडोर और आउटडोर गेम्स की भी व्यवस्था की जा रही है। आकर्षित करने वाली होंगी रंगीन दीवारें ,ज्ञानवर्धक पेंटिंग से होगी जिससे बच्चों को अच्छा महसूस हो।