मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर डॉ.गोविंद सिंह करेंगे ये मांग

भोपाल। मध्यप्रदेश में गैर राज्य प्रशासनिक सेवा (non state administrative service) के अधिकारियों को आईएएस (IAS) बनने का मौका एक बार फिर नहीं मिलेगा। दरअसल वर्ष 2015 के बाद हर बार गैर राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी इससे वंचित रहे हैं । 2015 में गैर राजनैतिक सेवा के चार अधिकारी श्रीकान्त पान्डेय,मंजू शर्मा, शमीमउद्दीन, संजय गुप्ता आईएएस बने थे लेकिन उसके बाद लगातार राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी ही इन पदों पर प्रमोशन पाते रहे । इस बार गैर प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों को उम्मीद थी कि उन्हें मौका मिलेगा लेकिन अभी 18 पद सिर्फ राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों को ही दिए जा रहे हैं जबकि पीएससी (PSC) मे कई पद राज्य प्रशासनिक सेवा के पद के समकक्ष होते है और इसी आधार पर गैर राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों का दावा आईएएस के लिये बनता है।

इस मुद्दे पर पहले भी सामान्य प्रशासन मंत्री डॉ गोविंद सिंह कार्मिक विभाग की प्रमुख सचिव दीप्ति गौड़ मुखर्जी को पत्र लिख चुके हैं। बावजूद सभी 18 पदों पर राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों को आईएएस पद पर प्रमोशन करने का पत्र केंद्र सरकार (CENTRAL GOVERNMENT) को भेजा जा चुका है । इस मुद्दे पर अब तक गोविंद सिंह मुख्यमंत्री (Chief Minister) को पत्र लिखकर मांग करेंगे कि केंद्र से यह मांग दोबारा की जाए कि इन पदों में से कुछ पद गैर राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों को भी दिए जाएं।