स्कूल पाठ्यक्रम में जुड़ा हॉकी, खेल मंत्री ने दिए निर्देश, खेलो इंडिया के तहत बनेंगे खेल परिसर

bjp-ex-mla-statement-on-yashodhara-raje-scindia

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में हॉकी (Hockey) को बढ़ावा देने के लिए स्कूल पाठ्यक्रम (School Syllabus) में हॉकी खेल को भी अनिवार्य रूप से जोड़ा जाएगा। इसके लिए खेल एवं युवा कल्याण मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया (Sports Minister Yashodhara Raje Scindia) ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। खेल मंत्री का कहना है कि पाठ्यक्रम में हॉकी खेल को जोड़ने से ना सिर्फ इस खेल को बढ़ावा मिलेगा बल्कि प्रदेश के स्कूल कॉलेजों में बेकार पड़े परिसरों का विकास भी खेलो इंडिया के तहत किया जाएगा।

मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया का कहना है कि खेलो इंडिया (Khelo India) के तहत भारत सरकार (Indian Government) बजट उपलब्ध करवाती है। इसके लिए राज्य सरकार को भूमि देना होती है ताकि स्कूल परिसरों में ग्राउंड बनाकर उनका खेलों में इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके साथ ही ग्रामीण स्तर पर छुपी खेल प्रतिभाओं का चयन कर उनके खेल विकास को निखारने और उन्हें पर्याप्त अवसर दिलाने के लिए अब खेल एवं युवा कल्याण विभाग स्कूल शिक्षा के साथ मिलकर कई कार्य योजना बनाने की कवायद कर रहा है। 291 खेल अधोसंरचनाओं की हुई मैपिंग खेल विभाग की समीक्षा बैठक में यह जानकारी दी गई कि खेलो इंडिया के तहत गांव, ब्लॉक, जिला और राज्य स्तर पर 291 खेल अधोसंरचनाओं की मैपिंग कर उन्हें चिन्हित किया गया है। एक साल में मैपिंग की जीआईएस/एमआईएस को विकसित किया जाएगा। इसके साथ ही राज्य स्तरीय खेल मैदान संघों का गठन भी किया जाएगा। जल्द ही भारत सरकार को एथलेटिक, शूटिंग, फुटबॉल और हॉकी के रिफ्रेशर कोर्स के लिए भी एक नया प्रस्ताव भेजा जाएगा।