हनीट्रैप: मानव तस्करी मामले में आया नया मोड़

भोपाल| प्रदेश का बहुचर्चित हनीट्रैप मामला शुरुआत से ही नए नए खुलासे को लेकर सुर्ख़ियों में है, अब मामले में नया मोड़ आ गया है| हनीट्रैप से जुडे मानव तस्करी के मामले में आरोपी मोनिका के पिता ने बड़ा खुलासा किया है| उनका कहना है कि मानव तस्करी के बयान देने को लेकर उन पर दबाव डाला गया था| 

दरअसल, हनीट्रेप मामले की सहआरोपी मोनिका यादव के पिता हीरालाल यादव ने मानव तस्करी मामले में आरती दयाल, श्वेता विजय जैन, श्वेता स्वपनिल जैन, बरखा सोनी और अभिषेक सिंह के खिलाफ प्रकरण से संबंधित तथ्य बताने के लिए धारा -164 के तहत बयान दर्ज कराने के लिए शुक्रवार को जिला अदालत में न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी ज्योति राठौर की कोर्ट में आवेदन पेश किया था|  अदालत ने मामले में सीआईडी से केस डायरी तलब कर सुनवाई के लिए शनिवार की तारीख तय की थी। लेकिन मोनिका के पिता के आज कोर्ट ने बयान दर्ज नहीं किए हैं| मोनिका के पिता धारा 164 के तहत कोर्ट में बयान दर्ज कराने पहुंचे थे| वहीं इंदौर के पलासिया थाने के टीआई शशिकांत चौरसिया ने मोनिका के पिता पर धनबल और बाहुबल के आधार पर बयान पलटने का आरोप लगाया है| शशिकांत चौरसिया का कहना है जो लोग धनबल और बाहुबल के आधार पर बयान पलट रहे हैं उनके खिलाफ भी कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

बता दें कि इंदौर में हुए हनीटे्रप मामले के बाद भोपाल सीआईडी ने हीरालाल की शिकायत पर मानव तस्करी का एक अलग मुकदमा दर्ज किया था। पूर्व में हीरालाल ने बताया था कि परिवार की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है। श्वेता जैन, बरखा भटनागर और अन्य ने बेटी मोनिका यादव को रूपये और पढाई का लालच देकर गिरोह में शामिल किया है। मोनिका हनीटे्रप मामले में जेल में बंद है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here