मौलाना अलीकदर के बयानों के साथ हुआ इज्तिमा का आगाज

भोपाल। 72 वें आलमी आलमी तबलीगी इज्तिमा का आगाज आज बाद नमाजे फजर मौलाना अलीकदर के बयानों के साथ हो गया है। उन्होंने बयान करते हुए कहा की अल्लाह तआला ने हमे बोहोत ही मुख्तसर (थोड़ी)सी जिनदीगी के लिये दुनिया मे भेजा है। दुनिया में रहकर हमे आखिरत की फि़ कर करना है। अल्लाह ताअला ने हमे ईमान वाला बनाया इस्का जितना शुक्र अदा किया जाए कम है। अल्लाह ने जमीन असमान पहाड़ बनाए,असमान से बारिश बरसाई अगर अल्लाह पानी को खारा कर देते तो बताओं उसे मीठा करने वाला कोन है। खेतों में गल्ले को कौन उगता है। जो आग तुम जलाते हो उसे किसने तुम तक पहुंचआया,इज़्ज़त और जिल्लत का देने वाला अल्लाह ही है।

मौलाना इज्तिका के पहले दिन लाखों लोगों के मजमे में दीन की बात रखी। लोगों को दुनिया में आने का असल मकसद समझाया। अल्लाह की लोह थाने रखने की हिदायत दी। गौरतलब है कि सोमवार तक इज्तिमा चलेगा। जिसमें देश विदेश से आए मौलाना दीन की बात करेंगे। दावत का पैगाम आम करेंगे। इधर, इज्तिमागाह में ठहरे जमातियों के लिए नाश्ते और खाने के माकूल इंतेजामात हैं। खिदमत ए खल्क के लिहाज से सैकड़ो खाने की दुकाने यहां लगाई गई हैं। यहां कई अस्थाई नर्सिंग होम आदी बनाए गए हैं। पुलिस ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं। चार हजार जवान इज्तिमागाह की ओर जाने वाली तमाम सड़कों पर तैनात किए गए हैं। पुलिस के साथ कंधे से कंधा मिलाकर 45 वालेंटियर्स भी सुरक्षा और ट्रैफिक व्यवस्था में तैनात किए गए हैं। भोपाल स्टेशन से इज्तिमागाह तक सैकड़ो कैंप जमातियों की खिदमत के लिए लगाए गए हैं। जिसमें फ्री चाय और नाश्ते का इंतजाम है।