आंदोलन के जवाब में किसान सम्मलेन की तैयारी, कृषि कानून के फायदे बताएगी भाजपा

अब बीजेपी ने किसानों के बीच जाकर उन्हें इस नए कृषि बिल के बारे में जागरूक करने का प्लान बनाया है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| कृषि कानून (Farmers Bill) के खिलाफ देश भर में मचे बवाल के बाद अब भाजपा (BJP) ने मोर्चा संभाल लिया है| मध्य प्रदेश (Madhyapradesh) में भाजपा किसानों को साधने की कोशिशों में जुट गई है| हालाँकि किसान आद्नोलन का अधिक असर प्रदेश में नहीं है| आने वाले समय में प्रदेश के 8 बड़े जिलों में सम्मेलन करने की तैयारी है| जिसमे कृषि कानून के फायदे बताकर किसानों की नाराजगी दूर की जायेगी|

दिल्ली की सड़कों पर आंदोलन कर रहे किसान (Farmers Protest) इस कानून को निरस्त करने की मांग पर अड़े हुए हैं| आंदोलन के समर्थन में कांग्रेस समेत कई पार्टियां आ गई है| वहीं केंद्र सरकार कानून को किसानों के हित में बता रही है| लेकिन किसानों की नाराजगी और विपक्ष के आरोपों के बाद केंद्र सरकार की चिंता बढ़ गई है| इसको लेकर अब बीजेपी देश भर में किसानों को कानून के बारे में जानकारी देगी|

मध्य प्रदेश में भी भाजपा रणनीति बना रही है| बताया जा रहा है कि प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने वरिष्ठ नेताओं के साथ मंथन किया है| पार्टी किसान सम्मलेन आयोजित करने की तैयारी कर रही है| किसानों को सीएम हाउस भी बुलाया जा सकता है| बीजेपी शुरू से यह कह रही है कि विपक्ष के नेता किसानों को इस नए कृषि बदलावों को लेकर बरगला रहे हैं। अब बीजेपी ने किसानों के बीच जाकर उन्हें इस नए कृषि बिल के बारे में जागरूक करने का प्लान बनाया है। देश भर में बीजेपी की योजना है कि वो प्रेस कॉन्फ्रेंस, चौपाल और जन संपर्क आयोजित कर किसानों को इस बिल के फायदों के बारे में समझाएगी।