सहकारी बैंकों के कम्प्यूटर ऑपरेटर्स को राहत, बढ़ाई गई संविदा अवधि

भोपाल।
सहकारिता मंत्री डॉ. गोविंद सिंह ने जिला सहकारी केंद्रीय बैंकों में पूर्व में कार्यरत कम्प्यूटर ऑपरेटर्स को बड़ी राहत दी है।मंत्री ने कम्प्यूटर ऑपरेटर्स की संविदा अवधि छह माह बढ़ाने के निर्देश दिए हैं।सहकारिता मंत्री डॉ गोविन्द सिंह ने सहकारिता आयुक्त डॉ. एमके अग्रवाल को निर्देश दिए हैं कि जिला सहकारी केन्द्रीय बैंकों में पूर्व में कार्यरत संविदा कम्प्यूटर ऑपरेटर्स की संविदा अवधि 1 मार्च 2020 से 31 अगस्त 2020 तक 6 माह के लिए बढ़ाई जाए। सरकार के इस फैसले के बाद संविदा कम्प्यूटर आपरेटर्स में ख़ुशी की लहर है और वो अपनी समयसीमा बढ़ाये जाने के बाद ना सिर्फ सरकार का बल्कि विधायक रामबाई सिंह का भी धन्यवाद कर रहे है।वही रामबाई ने भी मंत्री गोविंद सिंह को धन्यवाद कहा है।

दरअसल, लंबे समय से आपरेटर्स अवधि बढाने की मांग कर रहे थे, बीते दिनों बसपा विधायक से भी आपरेटर्स ने इसकी शिकायत की थी।जिसके बाद सहकारिता मंत्री डॉ. गोविंद सिंह ने गेहूँ उपार्जन के कार्य को देखते हुए जिला सहकारी केन्द्रीय बैंकों में पूर्व में कार्यरत कम्प्यूटर ऑपरेटर्स की संविदा अवधि छ: माह बढ़ाने के निर्देश दिये है। इनकी संविदा अवधि 31 जनवरी 2020 को समाप्त हो गयी थीं। निर्देशानुसार अब संविदा अवधि एक मार्च 2020 से 31 अगस्त 2020 तक के लिये बढ़ायी जायेगी।

आयुक्त सहकारिता डॉ. एम.के. अग्रवाल ने बताया कि प्रदेश के सहकारी बैंकों में लगभग 650 कम्प्यूटर ऑपरेटर्स को नियमित नियुक्तियां होने की अवधि तक के लिये संविदा पर रखा गया था। जून 2018 में सहकारी बैंकों में नियमित नियुक्तियां हो जाने के बाद इनकी सीमाएँ समाप्त हो गयी थीं। इसके बाद सहकारी बैंकों में विभिन्न कार्यों के लिये छ:-छ: माह की अवधि के लिये कम्प्यूटर ऑपरेटर्स को संविदा पर रखा जाता रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here