5 हजार से अधिक नर्सों की होगी भर्ती, निलंबित डॉक्टरों की बहाली के भी निर्देश

भोपाल।
डॉक्टरों को लेकर प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। जिसके तहत सरकार पिछले 6 महीने में निलंबित हुए सभी डॉक्टरों को बहाल करेगी।वही प्रदेश में डॉक्टरों की कमी को देखते हुए बड़ी संख्या में डॉक्टरों की भर्ती भी की जाएगी।प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने पिछले 6 माह में निलंबित किए गए डॉक्टरों के बहाली के निर्देश और 1700 से अधिक डॉक्टरों की भर्ती के लिए भी विज्ञापन जारी करने के निर्देश दिए है।

दरअसल, मंगलवार को लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री तुलसीराम सिलावट ने विभागीय समीक्षा करते हुये निर्देश दिये हैं कि पिछले 6 माह में निलंबित किये गये सभी डॉक्टर्स को बहाल करें और जनता की सेवा में लगायें। उन्होंने कहा कि डॉक्टर्स की भर्ती प्रक्रिया को तेज करें और 1700 से अधिक पदों के लिये डॉक्टर्स की भर्ती के लिये विज्ञापन जारी करें।सिलावट ने शिशु और मातृ मृत्यु दर में कमी लाने के लिये क्षेत्र और जिलेवार कार्य-योजना बनाने के निर्देश दिये। साथ ही, विभाग की 365 दिन की कार्य-योजना 10 दिन में बनाकर प्रस्तुत करने को भी कहा। स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिये सभी अधिकारी शासकीय अस्पतालों का सप्ताह में एक बार अवश्य निरीक्षण करें। सभी जिला, सिविल और प्राथमिक अस्पतालों की व्यवस्था संबंधी रिपोर्ट प्रति सप्ताह प्रस्तुत करें।

5 हजार से अधिक नर्सों की भर्ती
बैठक में बताया गया कि इस वित्तीय वर्ष में स्वास्थ्य विभाग 5 हजार से अधिक नर्सों की भर्ती करेगा। इनमें से 2500 पद संविदा से भरे जायेंगे। पिछले वर्ष एक हजार से अधिक नर्सों की भर्ती की गई थी। इस वर्ष 722 मेडिकल ऑफीसर और 900 से अधिक विशेषज्ञ डॉक्टर्स की भर्ती की जायेगी। साथ ही 620 लैब टेक्नीशियन और 4 हजार सी.एच.ओ. पदों पर भर्ती प्रक्रिया जल्द ही शुरू होगी। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने 157 लोगों को इस वर्ष अनुकम्पा नियुक्ति प्रदान की है। शेष 43 लोगों को अगले वित्त वर्ष में पद रिक्त होने पर नियुक्ति दी जाएगी। संचालक सुश्री छवि भारद्वाज बैठक में शामिल हुईं।