खनिज संबंधी उद्योग लगाने के लिये आगे आएं निवेशक: मंत्री प्रदीप जायसवाल

investers-come-Into-Investing-in-Mineral-Industry

भोपाल। खनिज साधन मंत्री प्रदीप जायसवाल ने प्रदेश के मुख्य खनिजों की ब्लॉक नीलामी के आवंटन के लिये आयोजित प्री-बिड मीटिंग कार्यशाला में देश के विभिन्न राज्यों से आये 70 से अधिक निवेशक, उनके प्रतिनिधि तथा खनिज व्यवसायियों से आग्रह किया कि वे मप्र में खनिज संबंधी उद्योग लगाने के लिये आगे आएं। उन्होंने कहा कि शासन को उन्हें हरसंभव सुविधाएं मुहैया कराएगा। जायसवाल ने कहा कि व्यवसायी मप्र में खनिज के क्षेत्र में ज्यादा से ज्यादा निवेश करें।

मंत्री जायसवाल ने कहा कि कार्यशाला में खनिज व्यवसायियों ने जो सुझाव दिए हैं, उन पर विचार कर अमल किया जायेगा। उन्होंने कहा कि निविदा की समय अवधि बढाये जाने पर भी विचार किया जायेगा। जायसवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ की प्रदेश में अधिक से अधिक उद्योग लगाने की मंशा है। खनिज संसाधन मंत्री ने कहा कि किसी भी प्रकार की कठिनाई आने पर खनिज व्यवसायी सीधे उनसे सम्पर्क कर सकते हैं। जायसवाल ने कहा कि अन्य खनिजों के क्षेत्र में भी निवेश करें। उन्होंने मप्र में आने के लिए सभी के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया। उल्लेखनीय है कि खनिज विभाग द्वारा प्रदेश में आगामी 26 अगस्त से 13 खनिज ब्लॉकों की निविदा की कार्यवाही प्रचलन में है। इसमें प्रदेश के महत्वपूर्ण खनिज जैसे हीरा, सोना, बॉक्साइट, चूना-पत्थर आदि शामिल हैं। इन ब्लॉकों की नीलामी से राज्य सरकार को लगभग 60 हजार करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त होने का अनुमान है। यह खनिज विभाग की महत्वपूर्ण उपलब्धि होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here