कमलनाथ के मंत्री के साथ SP को डांस करना पड़ा महंगा, हटाया, वीडियो हुआ था वायरल

jabalpur-sp-amit-singh-transfer-after-dance-with-lakhan-ghanghoria-video-viral

भोपाल।

शनिवार को चुनाव आयोग के निर्देश पर राज्य शासन ने भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारियों के तबादले किये थे। इनमें तीन जिलों के एसपी को बदला गया था। इनमें जबलपुर एसपी अमित सिंह को भी हटाया गया है।बताया जा रहा है कि बीते दिनों अमित का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, जिसमें वे कमलनाथ सरकार के मंत्री लखन घनघोरिया के साथ नाचते हुए नजर आए थे। बारात मंत्री के भांजे की ही थी। अधिकारी के यूं शादी  में मंत्री के साथ नाचने पर सवाल उठ रहे थे। बीजेपी ने भी चुनाव आयोग से इसकी शिकायत की थी, जिसके बाद यह कार्रवाई की गई है। अमित की जगह निमिष अग्रवाल को जबलपुर का नया एसपी  बनाया गया है।वही अमित को  पुलिस मुख्यालय भेज दिया गया है।

दरअसल, बीते दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें  जबलपुर एसपी अमित सिंह कांग्रेस सरकार में मंत्री लखन घनघोरिया के साथ एक शादी में डांस करते हुए नजर आ रहे थे। वायरल विडियो सागर जिले के बंडा का था, जहाँ पर एसपी की बैचमेट वर्णिका डेका के देवर का विवाह था, इसी विवाह में वे अपने बैचमेट के निमंत्रण पर पहुंचे थे और जहां उन्होंने डांस किया, जिसका किसी ने वीडियो बना लिया और सोशल माीडिया पर वायरल कर दिया। खास बात तो ये थी कि डांस में एसपी अमित सिंह के साथ सामाजिक न्याय मंत्री लखन घनघोरिया भी नाच रहे थे, क्योंकि शादी उनके भांजे की थी। विवाह में केन्द्रीय मंत्री वीरेंदर खटीक और केबिनेट मंत्री लखन घनघोरिया के अलावा सागर कमिश्नर, सागर आई जी, सहित कई आईपीएस और आईएएस शामिल हुए थे।आचार संहिता लगने के बाद एक अधिकारी का इस तरह का वीडियो सामने आने के बाद सवाल उठ रहे हैं, जिसके बाद यह कार्रवाई की गई है।

बीजेपी ने उठाए थे सवाल

वीडियो के वायरल होने पर बीजेपी ने सवाल उठाए थे। भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष विजेश लुनावत ने कहा था कि जिस तरह एसपी मंत्री के साथ नाच कर रहे हैं, इससे समझ आता है कि दोनों के बीच किस तरह की नजदीकी है। पार्टी निष्पक्ष चुनाव के मद्देनजर एसपी को हटाने की मांग करती है और इस सम्बन्ध में बीजेपी चुनाव आयोग में शिकायत भी करेगी। इसके बाद बीजेपी चुनाव आयोग पहुंची थी और शिकायत की थी। इस पत्र में बीजेपी ने आरोप लगाया गया था कि इस तरह नृत्य करने से मंत्री के साथ एसपी साहब की नजदीकियां दिख रही हैं। इसके अलावा इस पत्र में 2018 के विधानसभा चुनाव के दौरान प्रशासन द्वारा जबलपुर पूर्व से भाजपा प्रत्याशी और समर्थकों पर झूठे मुकदमें दर्ज करने के भी आरोप लगाए गए थे। भाजपा ने कहा था कि यह कार्य कांग्रेस प्रत्याशी को चुनाव के दौरान लाभ पहुंचाने के लिए किया गया था।जिसके बाद यह कार्रवाई की गई है।

शादी के कार्ड में केंद्रीय मंत्री और कैबिनेट मंत्री का नाम 

विवाह का जो निमंत्रण कार्ड छपा था उसमें केन्द्रीय मंत्री वीरेंद्र खटीक और मंत्री लखन घनघोरिया का नाम भी छापा गया था। इसके अलावा विनय राज के भाई वैभव राज जो कि भाजपा जिला महामंत्री है वो भी विवाह में शामिल थे। विवाह के उपरांत एसपी अमित सिंह सहित कई पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने केन्द्रीय मंत्री वीरेंद्र खटीक के साथ फोटो भी उतरवाई। अब वीडियो वायरल होने के बाद सामने आई इस कड़ी से सवाल खड़े हो गए हैं, क्यूंकि जिस शादी में एसपी ने डांस किया उस शादी में भाजपा के नेता भी मौजूद थे और उनके साथ की फोटो भी सामने आई है।