अब जेड सुरक्षा घेरे मे रहेंगे ज्योतिरादित्य सिंधिया, साथ चलेगा कारकेड

Jyotiraditya-Scindia-get-z-security--Will-run-with-carcade

भोपाल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं सांसद सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। अब वे जेड श्रेणी सुरक्षा घेरे में रहेंगे। सोमवार रात को गुना दौरे पर आए सिंधिया के साथ पूरा कारकेड लगाया गया। इसके अलावा उनके साथ स्थानीय पुलिस और भोपाल के जवानों की अलग-अलग टुकडिय़ां रहीं, जो कि ज्योतिरादित्य को सुरक्षा घेरे में लेकर चल रही थीं। 

मालूम हो कि सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के पास इससे पहले वाय श्रेणी की सुरक्षा थी।इसमें उनके साथ स्थानीय स्तर पर पुलिस द्वारा पायलट और फॉलो गार्ड लगाए जाते थे। लेकिन हाल ही में 20 फरवरी को इन्हें जेड श्रेणी सुरक्षा दी गई है। यह सुरक्षा स्टेट सिक्योरिटी कमेटी ने दी। गुना एसपी राहुल कुमार लोढ़ा ने बताया कि जेड श्रेणी की सुरक्षा में पूरा कारकेड लगाया जाता है।  इसमें फॉलो-पायलट के साथ-साथ एंबुलेंस भी रहती है। इसके अलावा जवानों की दो रिंग रहती है। एक रिंग स्थानीय पुलिस की, तो दूसरी रिंग भोपाल से आए स्पेशल फोर्स की रहती है। गुना दौरे के दौरान उन्हें सिक्योरिटी नॉर्मस के अनुसार सुरक्षा दी जा रही है।

बता दें कि भारत में सुरक्षा व्यवस्था को चार श्रेणियों में विभाजित किया गया है: जेड प्लस (Z+) (उच्चतम स्तर), जेड (Z), वाई (Y) और एक्स (X)| खतरे के आधार पर वीआईपी सुरक्षा पाने वालों में प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति, मुख्यमंत्री, केंद्रीय मंत्री, सांसद, विधायक, पार्षद, नौकरशाह, पूर्व नौकरशाह, जज, पूर्व जज, बिजनेसमैन, क्रिकेटर, फिल्मी कलाकार, साधु-संत या आम नागरिक कोई भी हो सकता है।