कैलाश का वार- दिल्ली में लोग पूछते हैं MP का CM कौन.. मैं कहता हूं कि ‘दिग्विजय नाथ सिंधिया’

kailash-vijayvargiya-targets-kamalnath-digvijay-singh-jyotiraditya-scindia-in-mp

भोपाल।

विधानसभा में मिली करारी हार के बाद बीजेपी मिशन 2019  में जुट गई है।इसी के चलते आज राजधानी भोपाल में कार्यकर्ताओं में  के लिए एक बड़ा सम्मेलन आयोजित किया गया।इस सम्मेलन में कार्यकर्ताओं को नया नारा ‘लक्ष्य हमारा मोदी दोबारा’ दिया गया और एकजुटता से चुनाव में जुटने का संकल्प दिलाया।वही इस कार्यक्रम में पहुंचे भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला।कैलाश ने कहा कि मध्यप्रदेश में समझ ही नही आता मुख्यमंत्री कौन है। दिल्ली में लोग मुझसे पूछते है कि एमपी का सीएम कौन है तो मैं कहता हूं दिग्विजय नाथ सिंधिया…। हालांकि यह पहला मौका नही है जब विजयवर्गीय ने कमलनाथ पर सवाल उठाए हो। इसके पहले भी कैलाश कई बार कमलनाथ, दिग्विजय और सिंधिया पर निशाना साधते नजर आए है।हाल ही उन्होंने सरकार सात दिन मे ंसरकार गिराने की बात कही थी।

दरअसल, आज शनिवार को राजधानी के पीपुल्स मॉल में संयोजक पालक एवं बूथ समिति कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन किया गया था। इस सम्मेलन में लोकसभा चुनाव को लेकर रणनीति तैयार कर चर्चा की गई। इसी के साथ कार्यकर्ताओं को नया नारा ‘लक्ष्य हमारा मोदी दोबारा’ दिया गया ।इस कार्यक्रम में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय, मध्य प्रदेश लोकसभा चुनाव प्रभारी स्वतंत्र देव सिंह शामिल हुए । सम्मेलन में कई कार्यकर्ता मोदी की फोटो लगी टी शर्ट पहनकर पहुंचे।सम्मेलन के दौरान महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि प्रदेश में मुख्यमंत्री कौन है, इसका पता नहीं है। मध्य प्रदेश के सीएम दिग्विजय नाथ सिंधिया हैं। विजयवर्गीय ने कहा कि दिल्ली में लोग पूछते हैं कि मध्यप्रदेश का सीएम कौन है और मैं जवाब देता हूं कि दिग्विजय नाथ सिंधिया हैं, क्योंकि जो दिखता है उसे ही मुख्यमंत्री माना जाता है। 

विजयवर्गीय यही नही रुके और आगे कहा कि कांग्रेस के कार्यकाल पर उन्होंने कहा कि इस सरकार की आयु रेखा टूटी हुई है, क्योंकि मैं राजनैतिक हस्त रेखा देखता हूं। वही नेताओ के बीजेपी पार्टी छोड़ने पर विजयवर्गीय कहा कि  किसी के जाने से  कोई फर्क नही पड़ता। पार्टी को किसी के आने-जाने से कोई नुकसान नही है, विधानसभा और लोकसभा की स्थितियां अलग होती है, इस बार लोकसभा में पहले से ज्यादा सीटें मोदी और अमित शाह के नेतृत्व में मिलेगी । वही स्वतंत्रदेव सिंह ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह के साथ शिवराज सिंह के नेतृत्व में अगला लोकसभा चुनाव लड़ा जाएगा ।