कमलनाथ ने सुनाई आइफा को मध्य प्रदेश लाने की कहानी

भोपाल के मिंटो हॉल में सलमान खान और जैकलीन फर्नांडिस की प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इस बात का खुलासा किया कि कैसे आईफा अवार्ड मध्यप्रदेश की धरती पर करने का सपना साकार करने का मन हुआ। कमलनाथ ने बताया कि जब इंदौर में राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव हुआ तब उन्हें किसी ने सलाह दी कि आइफा भी मध्यप्रदेश में कराया जा सकता है तब आइफा का नाम सुनकर कमलनाथ को लगा कि यह शायद फुटबॉल का कोई टूर्नामेंट है। लेकिन जब उन्हें यह पता चला कि यह तो फिल्म का अंतरराष्ट्रीय महोत्सव है तो आइफा के लोगों के साथ कमलनाथ को अपने संबंध याद आए। कमलनाथ ने बताया कि जब भी 2004 में वाणिज्य मंत्री थे तब आइफा के लोग उनके संपर्क में थे और उन्हीं संपर्कों का आधार बनाकर उन्होंने इंदौर में आइफा कराने का प्रस्ताव आईफा के संचालकों को दिया। कमलनाथ ने कहा कि वै मध्य प्रदेश की अलग पहचान बनाना चाहते हैं और इस नाते आइफा जैसे अवार्ड मील का पत्थर साबित होंगे ,यह साफ तौर पर दिखता है। कमलनाथ आगे बोले कि मध्यप्रदेश में ना तो समुद्र है ,ना बर्फ है लेकिन यहां पर खूबसूरत जंगल ,खूबसूरत पर्यटन और सबसे बड़ी बात यहां के सीधे-साधे लोग हैं।