Kamal-Nath's-minister-claims--PM-Modi's-hand-behind-Pulwama-attack-

भोपाल।

लोकसभा चुनाव से पहले बयानबाजी का दौर तेजी से चल रहा है।  कमलनाथ सरकार में परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के बाद अब खाद्य नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने पीएम मोदी को लेकर विवादित टिप्पणी की है। उन्होंने दावा किया है कि पुलवामा हमले के पीछे पीएम मोदी का हाथ है, यह पूरा हमला उनके द्वारा ही प्रायोजित था। वही उन्होंने बीजेपी के पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को तड़ीपार करार दिया है।  इस बयान के बाद बीजेपी हमलावर हो चली है। हालांकि यह पहला मौका नही है जब मंत्री ने विवादित बयान दिया हो इसके पहले परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने अमार्यदित बयान दिया था जिसके बाद आयोग ने उन पर एफआईआर दर्ज की है।

तोमर ने कहा कि मोदी जी ने पांच साल पहले कहा था कि दो करोड़ लोगों को रोजगार दिया जाएगा, अगर कोई हमारे सैनिक का एक सिर काटेगा तो हम दस सिर काटेंगें, कालाधन वापस लाकर गरीबों की जेब में 15 लाख रुपए वापस लाकर देंगें। ये तमाम बातों में से कौन सी बात पूरी हुई।इन बातों को छुपाने का काम बीजेपी ने किया। इस दौरान उन्होंने राम मंदिर को लेकर भी बीजेपी पर जमकर हमला बोला। वही उन्होंने दावा किया कि अगर पुलवामा हमले की सही तरीके से जांच की जाए तो जो हमारे जवान शहीद हुए है, जो मां, बहन और बेटियों का सिंदूर उजड़ा है उसके पीछे कारण अगर कोई है तो वो है  मोदी जैसे व्यक्तित्व ।ये पूरी घटना प्लान के तहत की गई । अगर ये लोग साफ सुथरे है तो जांच क्यों नही कराते । जब हमारी एजेंसियां कह रही थी कि सेना को हवाई जहाज ले जाओ तो सड़क के रास्ते ले जाने की क्या जरुरत थी।इतने सशक्त पीएम के होते इतने जवान शहीद हो गए,इंटेलीजेंस कमजोर कैसे हो गई, आखिर क्यों। जवाब देना होगा।

तोमर यही नही रुके उन्होंने अमित शाह पर  हमला बोलते हुए कहा कि जिस पार्टी का अध्यक्ष तड़ीपार है उसका दीमाग तड़ीपार है। आगे कहा कि सारा दिमाग तड़ीपार का चलता है जो पार्टी अध्यक्ष बोलते है वही मोदी जी करते है, और मोदी जी इसलिए करते है ताकी सत्ता बची रहे।उन्हें लाड़ले-लाड़लियों , मां-बहन-बेटियों से कोई प्यार नही बल्कि सत्ता से प्यार है।वही उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि मैं सभी से अपील करता हूं कि ऐसे जुमलेबाज, घोषणावीर और सिर्फ राजनैतिक फायदे के लिए लोगों की भावनाओं से खेलने वाले को अलविदा करने का वक्त आ गया है जैसे मध्यप्रदेश में घोषणावीर को किया।तोमर के इस बयान के बाद राजनैतिक गलियाओं में हड़कंप मच गया है औऱ बीजेपी भी जमकर हमले बोल रही है। हालांकि अभी तक चुनाव आयोग मे शिकायत की बात सामने नही आई है।

एक मंत्री पर पहले ही हो चुकी है एफआईआर

बता दे कि यह पहला मौका नही है जब कमलनाथ के मंत्री ने पीएम मोदी को लेकर ऐसी बात कही हो।  इससे पहले परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने पीएम मोदी को लेकर टिप्पणी की थी। जिसके बाद उन पर आचार संहिता का उल्लंघन और अमार्यदित टिप्पणी के चलते एफआईआर दर्ज की गई है।वही कांग्रेस ने आयोग पर बीजेपी के दबाव में आकर काम करने का आरोप लगाया है और धरना -प्रदर्शन की चेतावनी दी है।